+

महाराष्ट्र में 15 मई तक बढ़ाई गयी लॉकडाउन जैसी पाबंदियां, मुंबई में टीके की कमी के हुए दावे

महाराष्ट्र सरकार ने बृहस्पतिवार को लॉकडाउन जैसी पाबंदियों को 15 मई तक बढ़ा दिया, ताकि राज्य में कोरोना वायरस महामारी के प्रसार पर रोक लगाई जा सके।
महाराष्ट्र में 15 मई तक बढ़ाई गयी लॉकडाउन जैसी पाबंदियां, मुंबई में टीके की कमी के हुए दावे
महाराष्ट्र सरकार ने बृहस्पतिवार को लॉकडाउन जैसी पाबंदियों को 15 मई तक बढ़ा दिया, ताकि राज्य में कोरोना वायरस महामारी के प्रसार पर रोक लगाई जा सके।मुख्य सचिव सीताराम कुंटे की तरफ से जारी आदेश में कहा गया कि पाबंदियां बढ़ाने का निर्णय किया गया है क्योंकि राज्य में कोविड- 19 का खतरा बना हुआ है।उन्होंने कहा कि आपातकालीन उपाय जारी रखना अनिवार्य है ताकि वायरस के प्रसार को रोका जा सके।
लोगों की आवाजाही और अन्य गतिविधियों पर पाबंदियां इस महीने की शुरुआत में लगाई गई थीं, जो एक मई सुबह सात बजे तक के लिए थी।सीआरपीसी की धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू है जिसमें एक स्थान पर पांच या अधिक लोगों के इकट्ठा होने पर प्रतिबंध है।पाबंदियों से आवश्यक सेवाओं को छूट दी गई है।
वहीं , टीकाकरण का जिम्मा संभाल रहे अधिकारीयों का कहना है कि मुंबई में अगर टीके की पर्याप्त खुराक नहीं पहुंचती है तो कोविड-19 के खिलाफ टीकाकरण अगले दो दिनों तक रोकना पड़ सकता है। महानगर में टीकाकरण केंद्रों पर 45 वर्ष से ऊपर के लोगों की लंबी कतारें दिख रही हैं, वहीं एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि टीके के खुराक की आपूर्ति में कमी के कारण 18 से 44 वर्ष तक के लोगों का टीकाकरण एक मई से शुरू नहीं हो सकेगा।
बृहन्मुंबई नगर निगम के अतिरिक्त आयुक्त सुरेश काकानी ने कहा, ‘‘बुधवार की रात हमें बताया गया कि हमें टीके की करीब 75 हजार खुराकें मिलेंगी। इतनी कम आपूर्ति से बीएमसी ने कुछ ही टीकाकरण केंद्र खोले जबकि अन्य केंद्रों को बंद रखा गया।’’उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘‘कुल भंडार में से आज शाम तक हमने करीब 50 हजार खुराकों का इस्तेमाल किया है। अगर हमें और खुराक नहीं मिलती है तो हमें टीकाकरण अभियान रोकना होगा।’’
महाराष्ट्र के स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक देश की वित्तीय राजधानी में बुधवार को केवल 26,610 लोगों को टीका लगा।काकानी ने कहा, ‘‘अगर हमें पर्याप्त आपूर्ति नहीं मिलती है तो हमें अभियान कुछ दिनों के लिए रोकना होगा और पर्याप्त आपूर्ति का इंतजार करना होगा ताकि तेजी से टीकाकरण किया जा सके।’’महानगर में आज टीकाकरण केंद्रों के बाहर लंबी कतारें देखी गईं।
होम :
facebook twitter instagram