+

प्रस्तावित टेक्सटाइल पार्को में नदी प्रदूषण नहीं होने दिया जाएगा : मुख्यमंत्री भगवंत मान

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने मंगलवार को विधानसभा को सूचित किया कि लुधियाना के कूम कलां में प्रस्तावित मेगा इंटीग्रेटेड टेक्सटाइल रीजन और अपैरल पार्कों में नदी के प्रदूषण वाले पानी की अनुमति नहीं दी जाएगी।
प्रस्तावित टेक्सटाइल पार्को में नदी प्रदूषण नहीं होने दिया जाएगा : मुख्यमंत्री भगवंत मान
पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने मंगलवार को विधानसभा को सूचित किया कि लुधियाना के कूम कलां में प्रस्तावित मेगा इंटीग्रेटेड टेक्सटाइल रीजन और अपैरल पार्कों में नदी के प्रदूषण वाले पानी की अनुमति नहीं दी जाएगी और केंद्र और राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोडरें द्वारा निर्धारित सभी पर्यावरणीय मंजूरी और मानदंडों का पालन किया जाएगा। 
विधायक हरदीप सिंह मुंडियन के ध्यानाकर्षण का जवाब देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों के साथ साझेदारी में सात पीएम मेगा इंटीग्रेटेड टेक्सटाइल रीजन और अपैरल पार्क (पीएम मित्रा) स्थापित करने की योजना को मंजूरी दी है।
पर्यावरण कानूनों का पालन किया जाएगा
उन्होंने कहा कि इस योजना के तहत कूम कलां में टेक्सटाइल पार्क बनाने का प्रस्ताव केंद्र सरकार को भेजा गया है। मान ने कहा कि यह परियोजना केंद्र और राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोडरें द्वारा तय की गई सभी पर्यावरणीय मंजूरी और मानदंडों के अधीन होगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह सुनिश्चित करने के लिए पर्यावरण कानूनों का पालन किया जाएगा कि नदी के पानी का प्रदूषण या लोगों के स्वास्थ्य के लिए किसी प्रकार का खतरा ना हो।
परियोजना के लिए एक बुनियादी आवश्यकता
उन्होंने कहा कि महत्वाकांक्षी योजना एक तरफ निवेश आकर्षित करने में मदद करेगी और दूसरी तरफ युवाओं के लिए रोजगार के नए रास्ते खोलेगी। मान ने कहा कि परियोजना के लिए एक बुनियादी आवश्यकता यह है कि इच्छुक राज्य सरकार के पास 1000 एकड़ के सन्निहित और भार मुक्त भूमि पार्सल की तैयार उपलब्धता होनी चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार पहले ही परियोजना के लिए कूम कलां में एक भूखंड की पहचान कर चुकी है।
होम :
facebook twitter instagram