+

राजद का खुला अधिवेशन सिर्फ राजनीतिक ढकोसला : भाजपा

राजद का खुला अधिवेशन सिर्फ राजनीतिक ढकोसला : भाजपा
पटना : बिहार भाजपा प्रवक्ता डॉo निखिल आनंद ने राजद के द्वारा आयोजित खुला अधिवेशन पर कटाक्ष करते हुए सवाल किया कि- "देश- प्रदेश की जनता को पता है कि राजद एक पॉकेट की पार्टी है जिसमें सबकुछ परिवार में ही तय होता है। फिर अधिवेशन का दिखावा करने की क्या जरुरत है भाई?" 

निखिल ने आश्चर्य व्यक्त करते हुए कहा कि क्या ये कम दिलचस्प नहीं है कि राजद के सुप्रीमो आदरणीय लालू प्रसाद जी जेल में बंद हैं और उनको 11वीं बार राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाने के लिए राष्ट्रीय जनता दल खुला अधिवेशन आयोजित कर रही है बिहार भाजपा प्रवक्ता ने राजद और कांग्रेस को एक तराजू पर तौलते हुए कहा कि- "कांग्रेस पार्टी ने भी राहुल गाँधी को अपना राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया था पर वो असफल रहे। लगता है इसी डर से राजद ने तेजस्वी यादव को राष्ट्रीय अध्यक्ष नहीं चुना। यह सवाल तो है न कि जो पार्टी नहीं चला सकता या जिसको पार्टी का नेता नहीं बना सकते वो देश-प्रदेश कैसे चला सकता है!?!" 

 डॉo निखिल आनंद ने कहा कि राजद का खुला अधिवेशन एक राजनीतिक ढकोसला है क्योंकि ये लोग परिवार का, परिवार के लिए, परिवार के द्वारा के सिद्धांत पर राजनीति करते हैं। राजद का मुख्य मकसद जनता की आंखों में धूल झोंकना, अपने समर्थकों को बंधुआ मजदूर बनाकर वोटबैंक के तौर पर इस्तेमाल करना और अपना पारिवारिक हित साधना है।

facebook twitter