+

इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के रिजल्ट को लेकर रोहित शर्मा ने सुनाया अपना फैसला, बताया- कौन सी टीम है विजेता

भारत और इंग्लैंड के बीच पिछले महीने खत्म हुई टेस्ट सीरीज का मैनचेस्टर में होने वाला पांचवां और आखिरी मुकाबला कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को ध्यान में रखकर रद्द करना पड़ा था।
इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के रिजल्ट को लेकर रोहित शर्मा ने सुनाया अपना फैसला, बताया- कौन सी टीम है विजेता
भारत और इंग्लैंड के बीच पिछले महीने खत्म हुई टेस्ट सीरीज का मैनचेस्टर में होने वाला पांचवां और आखिरी मुकाबला कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को ध्यान में रखकर रद्द करना पड़ा था। वहीं भारतीय टीम इस मुकाबले में पहले ही 2-1 से आगे चल रही थी। लेकिन जब ये मैच रद्द हुआ तो इसके बाद सीरीज के फाइनल नतीजे को लेकर खूब बहसबाजी भी हुई। वहीं इंग्लैंड ने एक बयान जारी करके इस बात का दावा किया कि भारतीय टीम टेस्ट खेलने से पीछे हटी तो इसलिए इस मैच का विजेता मेजबान टीम होगी।


खैर, ये टेस्ट सीरीज रद्द होने के बाद भले ही श्रृंखला के आधिकारिक नतीजे को लेकर अभी भ्रम बना हो लेकिन स्टार सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा का कहना है कि उनकी नजर में भारत ने पांच मैचों की श्रृंखला 2-1 से जीत ली है। इंग्लैंड दौरे के दौरान भारत के मुख्य कोच रवि शास्त्री कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए थे जिसके बाद उन्हें और उनके करीबी संपर्क माने गए मुख्य फिजियो नितिन पटेल, गेंदबाजी कोच भरत अरूण और क्षेत्ररक्षण कोच आर श्रीधर को पृथकवास पर भेजा गया।


पटेल की गैरमौजूदगी में सहायक फिजियो योगेश परमार ने टीम की जिम्मेदारी संभाली लेकिन बाद में वह भी कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए जिसके बाद मैनचेस्टर में होने वाले पांचवें और अंतिम टेस्ट को रद्द कर दिया गया। इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) से आग्रह किया है कि इस मैच को भारत द्वारा गंवाया हुआ घोषित किया जाए और श्रृंखला का नतीजा 2-2 से बराबर हो। भारत हालांकि इस मैच को अगले साल के इंग्लैंड दौरे के दौरान खेलने को तैयार है।


रोहित ने जब इस श्रृंखला के बारे में पूछा गया तो उन्होंने यहां खेल सामग्री बनाने वाली कंपनी ‘एडीडास’ की आनलाइन प्रेस कांफ्रेंस के दौरान कहा, मुझे नहीं पता कि आधिकारिक रूप से क्या फैसला रहेगा लेकिन हमने अच्छा प्रदर्शन किया और मेरी नजर में हमने 2-1 से श्रृंखला जीती है।



रोहित के लिए वह दौरा सफल रहा था और वह इंग्लैंड के कप्तान जो रूट के बाद श्रृंखला में दूसरे सबसे सफल बल्लेबाज रहे। उन्होंने चार मैचों में 52.57 के औसत के 368 रन बनाए और सलामी बल्लेबाज के रूप में विदेशी सरजमीं पर अपना पहला शतक जड़ा। उन्होंने इसके अलावा दो और अर्धशतक लगाये। रोहित ने इंग्लैंड दौरे पर प्रदर्शन के संदर्भ में कहा, निजी तौर पर यह दौरा मेरे लिए अच्छा रहा और मैं इस दौरे से मिले आत्मविश्वास को भविष्य के दौरों पर भी जारी रखना चाहता हूं।
facebook twitter instagram