+

ड्रग्स मामले में सारा और रकुल के नाम की हुई पुष्टि,एक्ट्रेसेस को अब कभी भी NCB भेज सकती है समन

दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत केस में फिलहाल नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ड्रग एंगल की जांच कर रही है।
ड्रग्स मामले में सारा और रकुल के नाम की हुई पुष्टि,एक्ट्रेसेस को अब कभी भी NCB भेज सकती है समन
दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत केस में फिलहाल नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ड्रग एंगल की जांच कर रही है। इतना ही नहीं इस केस की तह तक जाने के लिए एनसीबी लगातार छापेमारी भी कर रही है। अब इस केस में कभी हद तक नया मोड़ देखने को मिल रहा है,जी हां दरअसल सुशांत खुदखुशी मामले में बॉलीवुड से जुड़े कई सारे लोगों के नाम सामने आ रहे हैं।



एनसीबी के डिप्टी डायरेक्टर ने की खबर की पुष्टि

रिया की ओर से एनसीबी को टोटल 25 लोगों के नाम बताए गए हैं। इस लिस्ट मं सारा अली खान,रकुलप्रीत सिंह और डिजाइनर सिमोन खंबाटा का नाम शामिल है। बता दें कि एनसीबी डिप्टी डायरेक्टर केपीएस मल्होत्रा ने कन्फर्म किया है। इन स्टार्स के नाम सामने तो आए है,मगर अभी हम इस पर आगे की कार्रवाई पर टिप्पणी नहीं कर सकते हैं।



इसके अलावा सारा अली खान,रकुल और सिमोन को समन भेजे जाने की बात सामने आई है। खबर यह भी है जल्दी ही ड्रग्स मामले में इन तीनों अभिनेत्रियों से एनसीबी द्वारा पूछताछ की जाएगी। 


इसके अलावा सुशांत के लोनावाला वाले फार्मआउस पर भी एनसीबी की छापेमारी की गई है। इस छापेमारी में एनसीबी के हाथों कई मजबूत सबूत लगे हैं। सुशांत ने ये फार्म रेंट पर लिया हुआ था,जिसके लिए वो हर महीने ढाई लाख तक किराया देते थे। 


वहीं एनसीबी के हाथ इस फार्म पर से हुक्का,दवाइयां,ऐश ट्रे जैसी चीजे लगी हैं। सुशांत के इस फार्महाउस पर एक्टर अपने दोस्तों गर्लफ्रेंड रिया,शौविक,सैमुएल मिरांडा,सिद्धार्थ पीठानी के साथ पार्टी करते थे। खबर है कि इस फार्महाउस पर दो अभिनेत्री और भी अक्सर पार्टी करने आया करती थीं। लेकिन उन दोनों अभिनेत्रियों के नाम का खुलासा नहीं हो पाया है। 


सुशांत सिंह से जुड़े ड्रग्स मामले में रिया और उनके भाई शौविक चक्रवर्ती सहित 6 लोग 14 दिन की न्यायिक हिरासत में है। इस बीच एनसीबी ने बीते सोमवार को शौविक के स्कूली दिनों के एक दोस्त सूर्यदीप मल्होत्रा को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है और उन्हें आज अदालत में पेश किया जाना है।


 इसके अलावा रिया की मां का फोन भी जब्त कर लिया गया है। दरअसल एजेंसी को इस बात की जांच करनी है कि ड्रग्स खरीदने के लिए उनके फोन पर तो कोई कॉल या मैसेज नहीं भेजे गए थे। 




facebook twitter