+

बुखार और सांस लेने में तकलीफ के बाद शशिकला अस्पताल में भर्ती

तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत जे जयललिता की करीबी सहयोगी वी के शशिकला को जेल से रिहा होने से कुछ दिन पहले ही बुधवार को बुखार व सांस लेने में तकलीफ की शिकायत के बाद सरकारी बोरिंग अस्पताल में भर्ती कराया गया। जेल सूत्रों ने यह जानकारी दी।
बुखार और सांस लेने में तकलीफ के बाद शशिकला अस्पताल में भर्ती
तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत जे जयललिता की करीबी सहयोगी वी के शशिकला को जेल से रिहा होने से कुछ दिन पहले ही बुधवार को बुखार व सांस लेने में तकलीफ की शिकायत के बाद सरकारी बोरिंग अस्पताल में भर्ती कराया गया। जेल सूत्रों ने यह जानकारी दी। 
सूत्रों के मुताबिक इससे पहले जेल अस्पताल में उनका उपचार चल रहा था लेकिन बाद में उन्हें बोरिंग अस्पताल ले जाया गया। 
अस्पताल सूत्रों ने कहा कि अन्नाद्रमुक से निष्कासित नेता ऐंबुलेंस से अस्पताल पहुंची और फिर व्हीलचेयर पर उन्हें बोरिंग अस्पताल के नाम से चर्चित बोरिंग एंड लेडी कर्जन मेडिकल कॉलेज एंड रिसर्च इंस्टीट्यूट के अंदर ले जाया गया। 
बाद में संस्थान के निदेशक व डीन डॉ. मनोज कुमार एच वी ने एक बयान में कहा कि 63 वर्षीय शशिकला को तनाव, मधुमेह और हाइपोथॉयराइड जैसी बीमारियां हैं और फिलहाल उन्हें खांसी और बुखार की वजह से अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 
उन्होंने बताया कि शशिकला की हालत स्थिर है और उन्हें एंटीबायोटिक्स के साथ ही ऑक्सीजन भी दी जा रही है। 
डॉ. कुमार ने कहा कि उनकी और जांच की जाएगी और वह निगरानी में रहेगी। जांच की रिपोर्ट का अभी इंतजार है। 
जेल के एक अधिकारी ने पूर्व में ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि जेल के अस्पताल में बुखार और सांस लेने में तकलीफ को लेकर उनका उपचार चल रहा था। 
अधिकारी ने कहा, “अब उन्हें बोरिंग अस्पताल ले जाया जाएगा।” 
अभी इस बात की पुष्टि नहीं हुई है कि उन्हें कोरोना वायरस संक्रमण है या नहीं। 
आय के ज्ञात स्त्रोत से 66 करोड़ रुपये ज्यादा की संपत्ति के मामले में फरवरी 2017 में चार साल कैद की सजा पाने वाली शशिकला को यहां पराप्पना अग्रहारा जेल में रखा गया है। 
उनकी बीमारी ऐसे समय सामने आई है जब एक हफ्ते बाद 27 जनवरी को वह जेल से रिहा की जाने वाली हैं। 
facebook twitter instagram