+

दिल्ली में कोरोना दर को पांच प्रतिशत से नीचे लाना लक्ष्य, तब तक निश्चिंत नहीं होगी सरकार : सत्येंद्र जैन

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन ने मंगलवार को कहा कि राजधानी में कोविड-19 के नए मामलों में गिरावट आ रही है, लेकिन सरकार तब तक निश्चिंत नहीं होगी जब तक कि संक्रमण की दर पांच प्रतिशत से नीचे नहीं आ जाती।
दिल्ली में कोरोना दर को पांच प्रतिशत से नीचे लाना लक्ष्य, तब तक निश्चिंत नहीं होगी सरकार : सत्येंद्र जैन
दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन ने मंगलवार को कहा कि राजधानी में कोविड-19 के नए मामलों में गिरावट आ रही है, लेकिन सरकार तब तक निश्चिंत नहीं होगी जब तक कि संक्रमण की दर पांच प्रतिशत से नीचे नहीं आ जाती। जैन ने संवाददाताओं से कहा कि दिल्ली में कोविड-19 के नए मामलों की संख्या 28 हजार से नीचे आकर करीब 12,500 तक पहुंच गयी है।
इसके अलावा अप्रैल में कोरोना संक्रमण की दर 36 प्रतिशत तक पहुंच गयी थी जो कि अब 19 प्रतिशत से भी नीचे पहुंच गयी है। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, ‘‘ कोरोना संक्रमण के दैनिक मामलों में आई कमी के बावजूद हम आराम से नहीं बैठ सकते। सरकार तब तक निश्चिंत नहीं होगी जब तक कि संक्रमण की दर पांच प्रतिशत से नीचे नहीं आ जाती और नए मामलों की संख्या घटकर 3000-4000 से कम नहीं हो जाती।’’
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को उम्मीद जताई थी कि राजधानी में कोविड-19 महामारी की भयावह लहर का पीक जा चुका है, हालांकि लॉकडाउन के नियमों में अभी किसी प्रकार की राहत नहीं दी जाएगी। जैन ने कहा कि दिल्ली सरकार ने टीकाकरण अभियान को तेज करने के लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली हैं, परंतु टीके की खुराक पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध नहीं होने के कारण परेशानी हो सकती है।
उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण की पिछली लहर में अस्पतालों में करीब 9500 बिस्तरों पर मरीज थे, लेकिन इस बार यह संख्या 22 हजार से भी अधिक रही है। ऑक्सीजन आपूर्ति को लेकर भी स्थिति में सुधार आया है, लेकिन अभी भी करीब 20 हजार बिस्तर कोविड के मरीजों से भरे हुए हैं।
स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि लॉकडाउन के कारण लोगों के आने-जाने पर प्रतिबंध है इसलिए कोरोना जांच की संख्या में कमी आई है। जैन ने बताया कि राजधानी में प्रतिदिन करीब 80 हजार नमूनों की कोविड-19 जांच की जा रही है जो कि पहले करीब एक लाख थी। इससे पहले स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी किए गए बुलेटिन के मुताबिक, पिछले 24 घंटे के दौरान दिल्ली में कोविड-19 के 12,481 नए मामले सामने आए जो कि 14 अप्रैल के बाद सबसे कम है। कोरोना संक्रमण की दर भी घटकर 17.7 प्रतिशत हो गयी।

facebook twitter instagram