राम मंदिर के फैसले को देखते हुए एक मंच पर आए सभी धर्मों के साधु-संत

रोहतक : अयोध्या के राम मंदिर पर आने वाले फैसले को देखते हुए सभी धर्मो के साधु-संतों ने बैठक की और इसको लेकर मंथन किया। कार्यक्रम में अलवर के सांसद एवं बाबा मस्तनाथ मठ के महंत बाबा बालक नाथ, सांपला स्थित कालीदास धाम के महंत बाबा कालीदास, गौकर्ण डेरे के महंत बाबा कपिल पुरी, बाबा बालक पुरी, महंत कमल पुरी, महामंडलेश्वर विश्वेश्वर आनंद, महाराज स्वामी परमानंद, महाराज गोसाई मदन गोपाल, भाई दिलबाग सिंह गुरुद्वारा टिकाना साहिब मानेश्वरी देवी संकट मोचन मंदिर कारी मोहम्मद तसलीम इमाम लाल मस्जिद नवीन अहमद प्रधान लाल मस्जिद मोहम्मद सलीम मोहम्मद शक्कुर मोहम्मद क्यूम में प्रमुख रूप से मौजूद रहे। 

करीब दो घंटे चली बैठक में आने वाले राम मंदिर के फैसले को लेकर मंथन हुआ। अलवर के सांसद बाबा बालक नाथ ने कहा कि राष्ट्रवाद से बडा कोई धर्म नहीं है और हमे इसका सम्मान करना चाहिए। उन्होंने अदालत जो भी फैसला होगा वह सम्मान योग्य होगा। 

उन्होंने देश व प्रदेश में शांति बनाए रखने की अपील की। उन्होंने कहा कि समाज में भाईचारा बनाए रखना सबसे बड़ी बात है। अदालत का जो भी मंदिर को लेकर फैसला होगा उसका प्रत्येक समाज सम्मान करेगा। इस अवसर पर गुलशन ढंग, सीताराम सचदेवा, सोम मलिक, गुलशन निझावन, अनिता मिगलानी, राजकमल सहगल, बसंत उपल, राजीव जैन, सनी मिनोचा, जग्गी, सुभाष बल्ला,  प्रेम सागर बतरा, नीतू जुनेजा, ऋषि राज नारायण, बिट्टू सचदेवा प्रमुख रूप से मौजूद रहे। 
Tags : Chhattisgarh,Congress,Raipur,रमन सरकार,Raman Sarkar,Tribal Department,Pathargarh agitation ,saints,Ram temple,meeting,Ayodhya