सेंसेक्स-निफ्टी में आई तेजी, चार हफ्तों की गिरावट पर लगा ब्रेक

मुंबई : बीते सप्ताह घरेलू शेयर बाजारों में पिछले चार सप्ताह से जारी गिरावट थम गई और सेंसेक्स 463.69 अंकों या 1.24 फीसदी की तेजी के साथ 37,581.91 पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी 112.30 अंकों या 1.02 फीसदी की तेजी के साथ 11,109.65 पर बंद हुआ। बीएसई के मिडकैप सूचकांक में 123.13 अंकों या 0.9 फीसदी की तेजी आई और यह 13,670.05 पर बंद हुआ, जबकि स्मॉलकैप सूचकांक 203.15 अंकों या 1.62 फीसदी की तेजी के साथ 12,699.5 पर बंद हुआ। सोमवार को बाजार की नकारात्मक शुरुआत हुई, क्योंकि भारत सरकार ने जम्मू एवं कश्मीर का विशेष दर्जा समाप्त कर दिया। 

इसके कारण अनिश्चिताओं और आशंकाओं के बीच निवेशकों में भय व्याप्त हो गया, जिससे शेयर बाजार में गिरावट का दौर रहा। सोमवार को सेंसेक्स 418.38 अंकों या 1.13 फीसदी की गिरावट के साथ 36,699.84 पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी 134.75 अंकों या 1.23 फीसदी की गिरावट के साथ 10,862.60 पर बंद हुआ। मंगलवार को बाजार में तेजी लौटी और सेंसेक्स 277.01 अंकों या 0.75 फीसदी की तेजी के साथ 36,976.85 पर बंद हुआ। वहीं, निफ्टी 85.65 अंकों या 0.79 फीसदी के तेजी के साथ 10,948.25 पर बंद हुआ। 

बुधवार को तेज उतार-चढ़ाव का दौर जारी रहा और भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) द्वारा देश की विकास दर का अनुमान घटाकर 7 फीसदी से 6.9 फीसदी करने के कारण बाजार गिरावट के साथ बंद हुए। सेंसेक्स 286.35 अंकों या 0.77 फीसदी गिरावट के साथ 36,690.50 पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी 92.75 अंकों या 0.85 फीसदी की गिरावट के साथ 10,855.50 पर बंद हुआ।

गुरुवार को मीडिया में ऐसी खबरें आई कि सरकार विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) पर लागू की गई उच्च कर की दर को वापस ले सकती है, जिसके बाद बाजार में रौनक आई और सेंसेक्स 636.86 अंकों या 1.74 फीसदी की तेजी आई और यह 37.327.36 पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी 176.95 अंकों या 1.63 फीसदी की तेजी के साथ 11,032.45 पर बंद हुआ।
Download our app
×