शिवसेना बोली- कुछ लोग बोल रहे है 'थैली' की भाषा

महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर मौजूदा राजनीतिक संकट बरकरार है। सरकार गठन के लिए शेष दो दिन का समय  रह गया है। भाजपा और शिवसेना दोनों अपने-अपने रुख पर अड़ी हैं। ऐसे में अगले 24 घंटे बेहद अहम माने जा रहे हैं। आज भाजपा मंत्रीमंडल राज्यपाल से मुलाकात करेगा तो वही, शिवसेना नेतृत्व ने भी पार्टी विधायकों की आपात बैठक बुलाई है। 

महाराष्ट्र : भाजपा प्रतिनिधिमंडल आज राज्यपाल भगत सिंह कोश्यिारी से करेगा मुलाकात

शिवसेना को अपने विधायकों के टूटने का डर सता रहा है। इस बैठक के जरिए शिवसेना एकजुटता दिखाने की कोशिश करेगी। पार्टी विधायकों के साथ बैठक के बाद शिवसेना अपने विधायकों को फाइव स्टार होटल में ठहरा सकती है। वही शिवसेना ने भाजपा पर निशाना साधा है।

शिवसेना ने अपने मुख पत्र सामना में लिखा है कि कुछ लोग नए विधायकों से संपर्क कर 'थैली' की भाषा बोल रहे हैं और ऐसी शिकायतें बढ़ रही है। शिवसेना ने कहा है कि पिछली सत्ता का उपयोग अगली सत्ता के लिए ‘थैलियां’ बांटने में हो रहा है। पर किसानों के हाथ कोई दमड़ी भी रखने को तैयार नहीं है। इसीलिए महाराष्ट्र के किसानों को शिवसेना की सत्ता चाहिए। सामना में लिखा गया है कि महाराष्ट्र की प्रतिष्ठा धूमिल करके यहां पर कोई राज नहीं कर सकता. इसके लिए शिवसेना वहां तलवार लेकर खड़ी है.
Tags : Badrinath,चारधाम यात्रा,बद्रीनाथ,हिमपात,Snow,भीषण ठंड,Kedarnath Dham,केदारनाथ धाम,Chardham Yatra,Gruzing cold ,BJP,Shiv Sena,stand,emergency meeting,party MLAs,Governor