शिवराज बोले- सदन में बहुमत साबित कराने के पक्ष में नहीं

भोपाल : मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) जोड़ने-तोड़ने की राजनीति में विश्वास नहीं करती और वे सदन में बहुमत साबित करने (फ्लोर टेस्ट) के पक्ष में नहीं हैं। श्री चौहान ने आज यहां संवाददाताओं से चर्चा के दौरान कहा कि भाजपा जोड़ने-तोड़ने की राजनीति में विश्वास नहीं रखती। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के लोग ही कहीं अपने गलत कार्यों से सरकार ना गिरा दें।

राज्य में इस मुद्दे पर गर्मायी राजनीति पर उन्होंने कहा कि वे इसके पक्ष में नहीं हैं। हालांकि इसके कुछ देर बाद श्री चौहान ने पार्टी की प्रदेश इकाई के कार्यालय में संवाददाताओं से कहा कि उनकी नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव से इस बारे में चर्चा हुई है। वे भी सदन में बहुमत साबित करना नहीं चाहते। उन्होंने कहा कि भाजपा ने कभी बहुमत साबित करने की बात नहीं की।

पक्ष और विपक्ष जनादेश का सम्मान करे : राम विलास पासवान

राज्य विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष श्री भार्गव ने दो दिन पहले राज्यपाल आनंदीबेन पटेल को पत्र लिखते हुए उनसे विभिन्न मुद्दों पर चर्चा के लिए विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने की मांग की थी। उन्होंने मीडिया से चर्चा में ये भी कहा था हर सर्वेक्षण में केंद, में एनडीए सरकार तय लग रही है। नए परिप्रेक्ष्य में लगता है कि कांग्रेस के पास विश्वास मत नहीं बचा। इस पर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा था कि भाजपा चार बार सदन में बहुमत साबित करवा चुकी है और अगर पार्टी एक बार फिर ऐसा चाहती है तो उसकी इस इच्छा का स्वागत है।

Tags : ,Shivraj Boley,House