+

कार्यवाहक मुख्यमंत्री किसानों को वित्तीय मदद मुहैया कराने पर राजी : शिवसेना

कार्यवाहक मुख्यमंत्री किसानों को वित्तीय मदद मुहैया कराने पर राजी : शिवसेना
शिवसेना ने बेमौसम बारिश के कारण फसलों को हुए नुकसान के लिए किसानों को 25 हजार रुपये प्रति हेक्टेयर भूमि की तत्काल सहायता देने की घोषणा करने की महाराष्ट्र सरकार से बुधवार को मांग की और कहा कि ‘‘कार्यवाहक’’ मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस इस पर राजी हो गए हैं। 
बैठक के बाद पत्रकारों के साथ बातचीत में शिवसेना के मंत्री रामदास कदम ने कहा, ‘‘हम उद्धव जी (शिवसेना प्रमुख) के निर्देशों पर बैठक में शामिल हुए। शिवसेना ने किसानों के लिए तत्काल वित्तीय सहायता के तौर पर 25,000 रुपये प्रति हेक्टेयर की मांग की है। कार्यवाहक मुख्यमंत्री इसपर राजी हो गए।’’ 
उन्होंने बताया कि 19 लाख हेक्टेयर पर कपास और 18 लाख हेक्टेयर पर सोयाबीन समेत 70 लाख हेक्टेयर भूमि पर फसल बर्बाद हो गयी। पर्यावरण मंत्री ने बताया कि कोंकण क्षेत्र में मछली पकड़ने वाली नौकाओं की मरम्मत और किसानों को धान की खेती के लिए मुआवजा भी दिया जाएगा। 
उन्होंने कहा कि शिवसेना के मंत्रियों ने किसानों से कर्ज वसूली और बिजली के बिलों का भुगतान रोकने की भी मांग की। उन्होंने कहा, ‘‘किसानों को रबी फसल तैयार करने में मदद मुहैया करानी चाहिए।’’ इस बीच, राज्य के वित्त मंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता सुधीर मुनगंटीवार ने कहा कि बेमौसम बरसात से 70 लाख हेक्टेयर की भूमि पर फसल बर्बाद हो गयी है और 60 लाख हेक्टेयर भूमि पर नुकसान का आकलन पूरा कर लिया गया है। 
उन्होंने कहा कि राज्य सरकार 14 जिलों में दो रुपये और तीन रुपये प्रति किलोग्राम की दर से क्रमश: चावल और गेहूं की आपूर्ति कर रही है। मंत्री ने कहा, ‘‘अगर जरूरत पड़ी तो हम अन्य जिलों में भी इस योजना का विस्तार कर सकते हैं जो बेमौसम बरसात से प्रभावित हैं।’’ 
गौरतलब है कि राज्य सरकार ने पिछले सप्ताह बेमौसम बरसात से प्रभावित किसानों को तत्काल वित्तीय सहायता देने के लिए विशेष प्रावधान के तौर पर 10,000 करोड़ रुपये की मंजूरी दी थी। शिवसेना ने इसे अपर्याप्त करार देते हुए 25,000 करोड़ रूपये से 30,000 करोड़ रूपये के राहत पैकेज की मांग की है। 

facebook twitter