+

भारत का आंतरिक मामला कनाडा की राजनीति के लिए चारा नहीं है : शिवसेना

राज्यसभा सदस्य चतुर्वेदी ने ट्वीट किया, "प्रिय जस्टिन ट्रुडो, आपकी चिंता की कद्र करती हूं लेकिन भारत का आतंरिक मामला किसी अन्य राष्ट्र की राजनीति के लिए चारा नहीं है।"
भारत का आंतरिक मामला कनाडा की राजनीति के लिए चारा नहीं है : शिवसेना
दिल्ली के पास हो रहे किसानों के विरोध प्रदर्शन पर कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रुडो की कथित टिप्पणी पर आपत्ति जताते हुए शिवसेना सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने मंगलवार को कहा कि ट्रुडो को “भारत के आतंरिक मामले का इस्तेमाल” कर राजनीति नहीं करनी चाहिए।
राज्यसभा सदस्य चतुर्वेदी ने ट्वीट किया, “प्रिय जस्टिन ट्रुडो, आपकी चिंता की कद्र करती हूं लेकिन भारत का आतंरिक मामला किसी अन्य राष्ट्र की राजनीति के लिए चारा नहीं है। कृपया दूसरे देशों के प्रति सम्मान प्रकट करने का शिष्टाचार निभाएं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी से अनुरोध करती हूं कि इस मुद्दे को, दूसरे देशों द्वारा अपनी राय दिए जाने से पहले ही सुलझा लें।’’
इससे पहले ट्रुडो ने गुरुपर्व के अवसर पर मंगलवार को फेसबुक पर एक वीडियो जारी कर कहा था, “भारत में किसानों द्वारा किए जा रहे विरोध प्रदर्शन की खबरों का संज्ञान न लूं तो इसे मामले को नजरअंदाज करना माना जाएगा। स्थिति चिंताजनक है और हम सब परिवारों और दोस्तों के बारे में परेशान हैं।”
उन्होंने कहा था, “मैं आपको याद दिलाना चाहता हूं, कनाडा हमेशा शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन के समर्थन में है। हम संवाद के महत्व में विश्वास करते हैं और इसीलिए हमने भारतीय अधिकारियों को अपनी चिंता से अवगत कराया है।”  नए कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली की सीमाओं पर छह दिनों से किसानों का प्रदर्शन चल रहा है।

भारत में चल रहे किसान प्रदर्शन पर कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने जताई चिंता


facebook twitter instagram