+

आफताब को लेकर दिल्ली के रोहिणी में स्थित FSL पहुंची पुलिस, आज फिर होगा पॉलीग्राफ टेस्ट

पॉलीग्राफ टेस्ट के लिए पुलिस आफताब पूनावाला को सोमवार को एक बार फिर से रोहिणी में फॉरेंसिक साइंस लेबोरेटरी (एफएसएल) लेकर पहुंच गयी है।
आफताब को लेकर दिल्ली के रोहिणी में स्थित FSL पहुंची पुलिस, आज फिर होगा पॉलीग्राफ टेस्ट
लिव-इन पार्टन श्रद्धा वॉकर की हत्या और बाद में उसके शव को 35 टुकड़ों में करने वाले आरोपी आफताब अमीन पूनावाला का पॉलीग्राफ टेस्ट आज फिर से किया जाएगा। इसके लिए दिल्ली पुलिस उसको लेकर रोहिणी में फोरेंसिक साइंस लेबोरेटरी (एफएसएल) पहुंच गयी है। दिल्ली के महरौली में 6 महीने पहले हुए इस हत्याकांड ने देश को हिलाकर रख दिया है।
नार्को के लिए पॉलीग्राफ टेस्ट जरूरी
रविवार को आफताब को एफएसएल ले जाया गया, लेकिन उसका पॉलीग्राफ टेस्ट नहीं हो सका। एफएसएल, रोहिणी के सहायक पीआरओ रजनीश कुमार सिंह ने कहा, शेष पॉलीग्राफ टेस्ट सोमवार को आयोजित किया जाएगा। कुछ चीजें पूरी होनी बाकी हैं। और नार्को टेस्ट के लिए पॉलीग्राफ टेस्ट अनिवार्य है।
आफताब का पॉलीग्राफ टेस्ट बीते मंगलवार से शुरू हुआ। हालांकि, उसके स्वास्थ्य की स्थिति के कारण परीक्षण स्थगित कर दिया गया था। पुलिस कथित तौर पर आफताब से 50 सवाल पूछ रही है, ताकि उसके द्वारा रची गई हत्या की पूरी साजिश का पता चल सके। शनिवार को दिल्ली की एक अदालत ने आफताब को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया। 
पिछली सुनवाई के दौरान 22 नवंबर को आफताब ने कोर्ट से कहा था कि उसे वॉकर ने उकसाया था, लेकिन उसके बाद वह चुप हो गया। उसके वकील अविनाश कुमार ने कहा, आफताब ने अदालत से कहा कि वह सहयोग कर रहा है, लेकिन वह एक बार में सब कुछ याद नहीं कर सकता है और जब उसे याद आएगा तो सूचित करेगा। उसने न्यायाधीश को यह भी बताया कि उसे उकसाया गया था, जिस कारण उसने श्रद्धा को मार दिया। 
अमेरिकी क्राइम शो से प्रेरित था आफताब
श्रद्धा और आफताब 2018 में डेटिंग ऐप 'बंबल' के जरिए मिले थे। वह इस साल 8 मई को दिल्ली आए थे और 15 मई को छतरपुर इलाके में शिफ्ट हो गए थे। आफताब ने श्रद्धा की हत्या की और उसके 35 टुकड़े किए और 18 दिनों तक उसके शरीर के अंगों को विभिन्न स्थानों पर फेंकता रहा। वह कथित तौर पर अमेरिकी क्राइम शो 'डेक्सटर' से प्रेरित था, जो एक ऐसे व्यक्ति की कहानी कहता है, जो दोहरी जिंदगी जीता है।
facebook twitter instagram