चिन्मयानंद मामले में SIT ने BJP नेता राठौर का लैपटॉप और पेनड्राइव की जब्त

बीजेपी नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री चिन्मयानंद पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली कानून की छात्रा से संबंधित वसूली मामले में विशेष जांच टीम (एसआईटी) ने बीजेपी नेता डी.पी.एस. राठौर का लैपटॉप और एक पेनड्राइव जब्त कर ली है। माना जा रहा है कि घटना से संबंधित वीडियो क्लिप्स इसमें हैं। 
चिन्मयानंद द्वारा दर्ज वसूली मामले में संदिग्ध भूमिका के लिए राठौर से एसआईटी ने रविवार को 12 घंटों तक पूछताछ की थी। राठौर जिला सहकारी बैंक का चेयरमैन है और राजस्थान के दौसा में भी मौजूद था जहां एसआईटी की टीम ने 30 अगस्त को मेंहदीपुर बालाजी मंदिर के निकट 23 वर्षीय छात्रा को बरामद किया था। छात्रा 24 अगस्त को लापता हो गई थी। 
कानून की छात्रा ने अपनी शिकायत में कहा था कि अजीत सिंह ने उससे पेन ड्राइव ले लिया था, जिसमें उसके यौन शोषण के सबूत हैं। बीजेपी प्रदेश उपाध्यक्ष जे.पी.एस. राठौर के छोटे भाई राठौर ने बाद में संवाददाताओं से कहा, 'मैं प्रशासन का सहयोग करने की कोशिश कर रहा था, लेकिन लग रहा है कि एसआईटी को कुछ गलतफहमी हो गई थी।' 
उन्होंने कहा, 'मैं दौसा कुछ वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के आग्रह पर लापता छात्रा की तलाश में सहायता करने गया था।' डी.पी.एस. राठौर ने कहा कि उस समय उनके साथ एक अन्य बीजेपी नेता अजीत सिंह थे। अजीत सिंह वसूली मामले के आरोपी विक्रम का साला है। 
इससे पहले शनिवार को एसआईटी टीम ने दादरौल विधानसभा से पूर्व विधायक डी.पी. सिंह को पूछताछ के लिए समन भेजा। एसआईटी के कुछ अधिकारियों ने भी कुछ तथ्यों की पुष्टि के लिए जिला जेल में बंद आरोपी से पूछताछ की। 
Tags : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी,Prime Minister Narendra Modi,कर्नाटक विधानसभा चुनाव,Karnataka assembly elections,यशवंतरपुर सीट,Yashvantpur seat ,Rathore,SIT,Chinmayanand,BJP,state vice president,reporters,administration