+

बिहार : मुंगेर में स्थिति हुई सामान्य, दुकानें खुली, पुलिस ने दलबल के साथ किया फ्लैग मार्च

बिहार में दशहरा के मौके पर दुर्गा प्रतिमा के विसर्जन के दौरान पुलिस और स्थानीय लोगों के बीच हिंसक झड़प के बाद अशांत मुंगेर की स्थिति अब सामान्य होने लगी है।
बिहार : मुंगेर में स्थिति हुई सामान्य, दुकानें खुली, पुलिस ने दलबल के साथ किया फ्लैग मार्च
बिहार में दशहरा के मौके पर दुर्गा प्रतिमा के विसर्जन के दौरान पुलिस और स्थानीय लोगों के बीच हिंसक झड़प के बाद अशांत मुंगेर की स्थिति अब सामान्य होने लगी है। शुक्रवार को मुंगेर की सभी दुकानें खुल गई हैं। इस बीच, औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) की जांच रिपोर्ट में कहा गया है कि झड़प में पहली गोली पुलिस द्वारा ही चलाई गई थी। 
मुंगेर में स्थिति अब धीरे-धीरे सामान्य हो रही है। प्रक्षेत्र के पुलिस उपमहानिरीक्षक (डीआईजी) मनु महाराज ने भी अब मोर्चा संभाल लिया है। शुक्रवार को मुंगेर की सभी दुकानें खुल गई हैं। इधर, पुलिस ने फ्लैग मार्च कर लोगों में विश्वास पैदा करने शांति बनाने की अपील की। 
डीआईजी मनु महाराज ने बताया की शहर की स्थिति अब सामान्य हो रही है। दुकान भी शुक्रवार को खुल गए हैं और लोग काम पर लौटे हैं। संवेदनशील इलाकों में पुलिस फ्लैग मार्च कर रही है। इलाकों में अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती कर दी गई है। मनु महाराज ने कहा कि गुरुवार को हुई आगजनी करने वालों का पता लगाया जा रहा है और उन सभी पर कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने लोगों से शांति बनाने की अपील की है। 
इस बीच, सीआईएसएफ की जांच रिपोर्ट में कहा गया है कि 26 अकटूबर को दुर्गा प्रतिमा विसर्जन के दौरान हुए विवाद में कई लोगों ने पुलिस पर पथराव प्रारंभ कर दिए, जिससे सिथति अनियंत्रित हो गई थी। पुलिस ने स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पहले गोली चलाई, जिससे लोग और आक्रोशित हो गए। 
इसके बाद 29 अक्टूूबर को एकबार फिर मुंगेर की स्थिति अनियंत्रित हो गई और लोग सड़कों पर उतर आए। थानों पर हमला कर कई वाहनों को फूंक दिया तथा कई कार्यालयों में तोड़फोड की। इसके बाद चुनाव आयोग ने जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक को तत्काल हटा दिया और नए जिलाधिकारी के रूप में रचना पाटिल और एसपी के रूप में मानवजीत सिंह ढिल्लो को भेज दिया। 
उल्लेखनीय है कि कोतवाली थाना क्षेत्र में दशहरा के मौके पर दुर्गा मूर्ति विसर्जन के दौरान लोगों और पुलिस के बीच हुई हिंसक झड़प में एक युवक अनुराग कुमार की मौत हो गई तथा कई लोग घायल हो गए। इसके बाद चुनाव के कारण इस मामले को लेकर सियासत गर्म हो गई। 
facebook twitter instagram