शेयर बाजारों में तेजी थमी; बैंकिंग, वाहन कंपनियों के शेयरों में गिरावट

औद्योगिक वृद्धि और मुद्रास्फीति जैसे वृहद आर्थिक आंकड़े जारी होने से पहले निवेशकों की मुनाफावसूली से बृहस्पतिवार को सेंसेक्स 166.54 अंक गिरकर बंद हुआ। 

बंबई शेयर बाजार (बीएसई) का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स दिनभर के कारोबार में भारी उतार - चढ़ाव के बाद 166.54 अंक यानी 0.45 प्रतिशत की गिरावट के साथ 37,104.28 अंक पर बंद हुआ। 

इसी प्रकार , नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी भी 52.90 अंक यानी 0.48 प्रतिशत गिरकर 10,982.80 अंक पर बंद हुआ। 

कारोबारियों ने कहा कि औद्योगिक उत्पादन और मुद्रास्फीति के आंकड़े आने से पहले घरेलू निवेशकों ने सतर्क रुख अपनाया। 

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की ओर से चीन से आयात होने वाली वस्तुओं पर अतिरिक्त शुल्क लगाने को 15 दिन टालने के बाद विवाद सुलझने की उम्मीदों के बीच वैश्विक मोर्चे पर शेयर बाजार में तेजी रही। 

सेंसेक्स के शेयरों में येस बैंक में बृहस्पतिवार को सबसे ज्यादा 5.10 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई। बुधवार को इसमें सबसे ज्यादा तेजी दर्ज की गई थी। वहीं , टाटा मोटर्स , मारुति , एक्सिस बैंक , भारती एयरटेल , रिलायंस इंडस्ट्रीज , एनटीपीसी , बजाज ऑटो , एशियन पेंट्स , आईटीसी , कोटक बैंक , बजाज फाइनेंस और टीसीएस में 4.76 प्रतिशत तक की गिरावट आई। 

वहीं दूसरी तरफ आईसीआईसीआई बैंक , सन फार्मा , इंडसइंड बैंक , एचडीएफसी बैंक , एचडीएफसी , एसबीआई , टेक महिंद्रा और ओएनजीसी के शेयरों में 2.13 प्रतिशत तक की वृद्धि हुई। 

जियोजित फाइनेंस सर्विसेज के अनुसंधान प्रमुख विनोद नायर ने कहा , ' पिछले एक हफ्ते में बाजार ने अच्छा प्रदर्शन किया है और इसमें सुधार देखा गया। '
 
उन्होंने कहा , ' निवेशक औद्योगिक वृद्धि और मुद्रास्फीति के आंकड़ों का इंतजार कर रहे हैं ताकि पता चल सके कि अर्थव्यवस्था में जारी सुस्ती खत्म हुई है या फिर अल्प अवधि में यह जारी रहेगी। आगामी आंकड़ों को लेकर परिदृश्य कमजोर है , जिसका असर अगले महीने वाली आरबीआई की मौद्रिक नीति बैठक में भी दिखने की संभावना है। '
एशियाई बाजारों में , शंघाई कंपोजिट सूचकांक और निक्की में तेजी दर्ज की गई जबकि हेंगसेंग मामूली गिरावट के साथ बंद हुआ। 

यूरोपीय बाजारों में शुरुआती कारोबार में तेजी का रुख रहा। 
Tags : पटना,Patna,सुशील कुमार,Punjab Kesari,stunning,forgery,Millionaire,mask company ,vehicle companies