+

जब कॉन्स्टेबल सुनीता के समर्थन में आई सोशल मीडिया की जनता,दिया असली सिंघम का नाम

जब कॉन्स्टेबल सुनीता के समर्थन में आई सोशल मीडिया की जनता,दिया असली सिंघम का नाम
हाल ही में महिला कॉन्सटेबल सुनीता यादव खूब सुर्खियों में छाई हुई है। इतना ही नहीं उनका नाम अब सोशल मीडिया पर #SunitaYadav ट्रेंड हो रहा है। याद दिला दें कि सुनीता कॉन्सटेबल हैं जिन्होंने गुजरात सरकार के मंत्री कुमार कनानी के बेटे को नियम तोड़ने पर जोरदार फटकार लगाई और उनकी इसी बात पर मंत्री के बेटे ने उनको ट्रांसफर और वर्दी उतरवाने की धमकी दी थी।  धमकी के बाद सुनीता ने मंत्री के बेटे से कहा, मैं सरकार की नौकरी करती हूं किसी के बाप की नहीं, वह और ही लोग होंगे जो नेता और मंत्रियों की गुलामी करते हैं,वर्दी तेरे बाप की नहीं है। 


वायरल हुआ वीडियो 

सुनीता का यह वीडियो इंडियन पुलिस फाउंडेशन ने शेयर करते हुए लिखा है  ‘हर पुलिस अधिकारी भारत के संविधान के प्रति निष्ठा की शपथ लेता है, बिना किसी डर या पक्षपात के कानून को सख्ती से लागू करने की शपथ लेता है। जब पुलिसकर्मी ने गरिमा के साथ अपनी ड्यूटी का निर्वहन किया, ऐसे में उनके साथ खड़े होना उनके सुपरवाइजर की ड्यूटी है।
  
इन्हें तो प्रमोशन दिया जाना चाहिए था

बॉलीवुड एक्ट्रेस स्वरा भास्कर ने कॉन्सटेबल के खिलाफ जांच पर गुजरात पुलिस से सवाल किया है। एक्ट्रेस लिखती हैं अपना काम करने के लिए उन्हें प्रमोशन देना चाहिए था, लेकिन उन्हें फ्रस्टेशन में इस्तीफा देना पड़ा। क्या अपनी ड्यूटी करने के लिए पब्लिक सरवेंट को इस देश में ये इनाम मिलता है?

क्या है मामला?

बता दें महिला कॉन्सटेबल सुनीता यादव ने 8 जुलाई को सूरत में स्वास्थ्य मंत्री कुमार कनानी के बेटे, प्रकाश कनानी और उसके दोस्तों को नाइट कर्फ्यू में ड्राइविंग और मास्क नहीं पहनने को लेकर चमकया था। जब यह वीडियो वायरल हुई इसके बाद सुनीता यादव के खिलाफ जांच करवाई  गई, जिसके बाद उन्होंने नौकरी से इस्तीफा देना पड़ा था। 

लोगों ने दिया ऐसा रिएक्शन... 




facebook twitter