सुरती मॉडल से रोका जाएगा दिल्ली में पानी का लीकेज

नई दिल्ली : सीएम केजरीवाल ने जाने-माने कार्टूनिस्ट, लेखक और जल संरक्षक आबिद सुरती के पानी बचाने का पायलट प्रोजेक्ट से प्रभावित होकर मालवीय नगर विधानसभा में एक पायलट प्रोजेक्ट शुरू करने की बात कही है। इस पायलट प्रोजेक्ट के नतीजों के आधार पर इसे पूरी दिल्ली में लागू किया जाएगा। मुुख्यमंत्री केजरीवाल ने मालवीय नगर में एक कार्यक्रम के दौरान इसकी घोषणा की। 

केजरीवाल ने कहा कि नीति आयोग ने 21 शहरों की एक लिस्ट निकाली है, जहां पर आने वाले समय में पानी की समस्या होने वाली है। दिल्ली का भी उसमें नाम है। आपकी अपनी सरकार आप सब लोगों के साथ मिलकर दिल्ली के अंदर जो-जो कदम उठा रही है उससे हम उस सिचुएशनल को बिलकुल भी पैदा नहीं होने देंगे। मैंने जल बोर्ड के साथ 3 घंटे की लंबी बैठक की है, जिसमें इस बात पर चर्चा हुई है कि दिल्ली में पीने के पानी का हमें किसी भी तरह से इंतजाम करना है। 2015 में 58 प्रतिशत घरों में टोंटी से पानी जा रहा था आज 93 प्रतिशत दिल्ली में टोंटी से पानी जा रहा है। 

बारिश के दिनों में एक दिन में हरियाणा यमुना के अंदर 6 लाख क्यूसेक पानी छोड़ता है और हम उसे आगे उत्तर प्रदेश में छोड़ देते हैं क्योंकि हम भी उसको रोक नहीं पाते। अगर उस पानी को हम रोक लें तो दिल्ली के पानी की समस्या खत्म हो जाएगी। इस पर हम एक पायलट प्रोजेक्ट कर रहे हैं। यमुना के किनारे 40 एकड़ जमीन में हम लोगों ने एक मीटर गड्डा खोदा है। अगले साल 1500 एकड़ जमीन अधिग्रहित  करके इसी तरह के गड्डे खोदकर पानी को स्टोर करेंगे।
Tags : ,Surti,water leakage,Delhi