फॉर्च्यूनर कार में सिर पर गोली लगने से कारोबारी की संदिग्ध मौत

पूर्वी दिल्ली : शाहदरा डिस्ट्रिक्ट के विवेक विहार इलाके में एक टाइल्स कारोबारी की उसकी फॉर्च्यूनर कार के अंदर संदिग्ध हालत परिस्थितियों में विदेशी पिस्टल से सिर पर गोली लगने से मौत होने का मामला सामने आया है। मृतक की पहचान सचिन अग्रवाल के तौर पर हुई है। उसकी उम्र 36 वर्ष के आस-पास बताई जा रही है। घटना के समय साथ मौजूद सचिन के दोस्त प्रसून का कहना है कि सचिन ने खुदकुशी की है। 

जबकि परिजनों का कहना है कि ऐसी कोई वजह नहीं थी कि सचिन खुदकुशी करे। इस कारण ये मामला पुलिस के लिए एक पहेली बन गया है। गुरुवार देर शाम खबर लिखे जाने तक डीसीपी शाहदरा अमित शर्मा का कहना था कि एफएसएल टीम मौका ए वारदात से साक्ष्य जुटा रही है। एफएसएल टीम से बात होने के बाद ही पता चला पाएगा कि ये खुदकुशी है या कोई सोची समझी साजिश। पुलिस प्रसून को हिरासत में लेकर उससे पूछताछ कर रही है। 

पुलिस के मुताबिक, सचिन परिवार सहित सुरजमल विहार के सी ब्लॉक स्थित कोठी में रहता था। उसके परिवार में प​त्नी, दो बच्चे व अन्य परिजन हैं। बुधवार रात सचिन अपने कुछ दोस्तों के साथ पार्टी करने के लिए गया था, सचिन के साथ उसकी पत्नी भी थी। सुबह करीब 5 बजे दोनों अपने घर पहुंचे। उनके साथ उनके कुछ दोस्त भी थे। इसके बाद वह नाश्ता करने के बाद प्रसून और उसकी महिला दोस्त को छोड़कर आने की बात कहकर घर से​ निकल गया। 

महिला को छोड़ने के बाद दोनों साथ थे। सुबह करीब 8.30 बजे प्रसून ने सचिन के घर पहुंचकर बताया कि सचिन ने घर के नीचे गाड़ी में खुद को गोली मार ली है। इसके बाद परिजन सचिन को पटपड़गंज के एक निजी अस्पताल में लेकर पहुंचे, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

आखिर कहां से आई अवैध विदेशी पिस्टल
अस्पताल से डॉक्टरों ने मामले की सूचना पुलिस को दी। इसके बाद पुलिस की एक टीम अस्पताल पहुंची, जबकि दूसरी मौका ए वारदात पर। पुलिस ने ​सचिन की कार से एक अवैध विदेशी पिस्टल, शराब की बोतल व अन्य सामान बरामद किया। 

परिजनों का कहना है कि सचिन के पास कोई पिस्टल नहीं थी। वहीं प्रसून का भी ये कहना है कि पिस्टल उसकी नहीं है। फिलहाल पुलिस अधिकारी मामले को संदिग्ध मानकर चल रहे हैं। जांच में तथ्य सामने आने के बाद ही मौत की सही वजह पता चलने की बात कही जा रही है।

नहीं थी कोई परेशानी ...
सचिन के परिजनों की माने तो उसे किसी तरह कोई परेशानी नहीं था। टाइल्स का कारोबार भी अच्छा चल रहा था। परिवार में भी किसी तरह का कोई कलह नहीं है। यही कारण है कि परिजन कह रहे हैं कि सचिन खुदकुशी नहीं कर सकता।
Tags : Fire,photos,नासा,NASA,residues of crops ,death,businessman,tiles businessman,area,Shahdara District,Vivek Vihar