तमिलनाडु : राजनीतिक दलों ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत किया

तमिलनाडु में शनिवार को राजनीतिक दलों ने राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत किया है। शीर्ष अदालत ने काफी लंबे समय से विचाराधीन इस मसले पर आखिरकार अपना फैसला सुना दिया है, जिसमें केंद्र सरकार को 2.77 एकड़ की इस विवादास्पद भूमि में मंदिर बनाने के लिए एक ट्रस्ट का निर्माण करने का आदेश दिया है। इसमें मुस्लिम पक्ष को मस्जिद बनाने के लिए अलग से पांच एकड़ जमीन देने की बात कही गई है। 

यहां जारी एक बयान में डीएमके अध्यक्ष एम.के.स्टालिन ने कहा है कि शीर्ष अदालत ने विचाराधीन मसले का हल ढूंढ़ लिया है। स्टालिन ने कहा कि उन्हें विश्वास है कि इस फैसले को सभी द्वारा स्वीकार किया जाएगा और समाज को नुकसान पहुंचाए बगैर सांप्रदायिक सौहार्द्र बनाया रखा जाएगा। 

यहां शनिवार को जारी एक बयान में इंडियन यूनियन ऑफ मुस्लिम लीग (आईयूएमएल) के राष्ट्रीय अध्यक्ष के.एम. कादर मोहिदीन ने कहा है कि सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के पक्ष या विपक्ष पर विचार करने की अब कोई और आवश्यकता नहीं है। उन्होंने कहा कि अभी वक्त है सुप्रीम कोर्ट के फैसले को स्वीकार किया जाए और इसे लागू करने के लिए कदम उठाए जाए। भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी की तमिलनाडु इकाई ने सभी से सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान करने और शांति बनाए रखने की अपील की है। 

राहुल गांधी ने कहा- अयोध्या पर फैसले का सम्मान हो, परस्पर सद्भाव बना रहे




Tags : Badrinath,चारधाम यात्रा,बद्रीनाथ,हिमपात,Snow,भीषण ठंड,Kedarnath Dham,केदारनाथ धाम,Chardham Yatra,Gruzing cold ,parties,court,Tamil Nadu,Supreme Court,dispute,Ram Janmabhoomi,Babri Masjid