+

तेजस्वी ने सदन में की CM नीतीश पर व्यक्तिगत टिप्पणी, 'क्या लड़की पैदा होने का डर था?'

बिहार विधानसभा के पहले सत्र के अंतिम दिन में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर व्यक्तिगत टिप्पणी कर दी।
तेजस्वी ने सदन में की CM नीतीश पर व्यक्तिगत टिप्पणी, 'क्या लड़की पैदा होने का डर था?'
बिहार विधानसभा के पहले सत्र का आज अंतिम दिन था जिसमें विपक्ष के नेता और राजद के अध्यक्ष तेजस्वी यादव का 56 मिनट का संबोधन हुआ। इस संबोधन के दौरान विधानसभा में उस वक्त जबरदस्त हंगामा हुआ जब नेता प्रतिपक्ष ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर व्यक्तिगत टिप्पणी कर दी। 
तेजस्वी यादव ने चुनाव प्रचार के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की ओर से उनके पिता लालू यादव के बच्चों पर की गई टिप्पणी को लेकर आक्रमक होते हुए कहा कि हमारे पिताजी के बारे में क्या-क्या कहा गया, आप कह रहे थे मुख्यमंत्री जी को लड़की पर भरोसा नहीं था, इसलिए लड़कों की चाहत में लड़की पैदा करते रहे। तो मैं यह कहना चाहता हूं कि मुख्यमंत्री जी आपका भी एक बेटा है, और हैं भी कि नहीं, लेकिन दूसरा बच्चा इस डर से पैदा नहीं किया क्योंकि आपको बेटी होने का डर था?
तेजस्वी द्वारा की गयी टिप्पणी पर उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद 
विधानसभा में तेजस्वी यादव के द्वारा की गई टिप्पणी पर भारी शोर-शराबे के बीच डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद ने विपक्ष के नेता के बयान को शर्मनाक करार देते हुए कहा कि सदन के अंदर ऐसे बयान शर्मनाक हैं। तेजस्वी को मर्यादा का पालन करना चाहिए। मुख्यमंत्री पर ऐसी टिप्पणी नहीं होनी चाहिए, ये गलत परंपरा की शुरुआत है।
तेजस्वी यादव के बयान पर राजद की सफाई  
तेजस्वी के सदन में दिए बयान पर आरजेडी के नेता उनका बचाव करने में जुट गए है। आरजेडी नेता सुबोध राय ने इस टिप्पणी पर तेजस्वी का बचाव करते हुए कहा कि व्यक्तिगत हमले नहीं होने चाहिए, लेकिन दूसरा व्यक्तिगत हमला करेगा तो हम भी चुप नहीं रहेंगे, नीरज कुमार कैसी भाषा बोलते हैं, सब जानते हैं। अभी तो कुछ नहीं हुआ अभी तो और होना बाकी है।

facebook twitter instagram