+

सत्ता के लिए सच बोलना स्वतंत्रता का दुरुपयोग बताया गया : महबूबा मुफ्ती

जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री एवं पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने कहा है कि वर्तमान समय में सत्ता को लेकर सच बोलने को जानबूझकर स्वतंत्रता के दुरुपयोग के रूप में गलत तरीके से पेश किया जा रहा है।
सत्ता के लिए सच बोलना स्वतंत्रता का दुरुपयोग बताया गया : महबूबा मुफ्ती
जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री एवं पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने कहा है कि वर्तमान समय में सत्ता को लेकर सच बोलने को जानबूझकर स्वतंत्रता के दुरुपयोग के रूप में गलत तरीके से पेश किया जा रहा है। महबूबा मुफ्ती ने उस रिपोर्ट पर प्रतिक्रिया देते हुये यह बात कही जिसमें 2 पत्रकारों के खिलाफ इसलिए मामला दर्ज किया गया क्योंकि दोनों ने सेना की तरफ से एक स्कूल प्रिंसिपल को गणतंत्र दिवस समारोह के आयोजन के लिए मजबूर किये जाने की जानकारी दी थी।


उन्होंने कहा, “कश्मीर में सेना की तरफ से एक स्कूल प्रिंसिपल को गणतंत्र दिवस समारोह के आयोजन के लिए मजबूर किये जाने की रिपोर्टिंग करने वाले पत्रकारों केे खिलाफ शिकायत दर्ज की गई है और अदालत ने उन्हें अग्रिम जमानत देने से इनकार कर दिया है। हम ऐसे समय में जी रहे हैं जहां सत्ता को लेकर सच बोलने को जानबूझकर स्वतंत्रता के दुरुपयोग के रूप में गलत तरीके से पेश किया जा रहा है।”

facebook twitter instagram