+

टेक्सास स्कूल गोलीबारी : मरने वालों की संख्या हुई 23, राष्ट्रपति बाइडन ने बताया नरसंहार

अमेरिका के टेक्सास राज्य में एक प्राथमिक स्कूल में हुई गोलीबारी मामले में मरने वालों की संख्या 23 हो गई जिसमें 18 बच्चें और पांच अध्यापक शामिल है।
टेक्सास स्कूल गोलीबारी : मरने वालों की संख्या हुई 23, राष्ट्रपति बाइडन ने बताया नरसंहार
अमेरिका के टेक्सास राज्य में एक प्राथमिक स्कूल में हुई गोलीबारी मामले में मरने वालों की संख्या 23 हो गई जिसमें 18 बच्चें और पांच अध्यापक शामिल है। खबरों के मुताबिक हमलवा ने पहले अपनी दादी को जान से मार दिया था, उसके बाद वह स्कूल में पहुंचा था। इस दर्दनाक हादसे को राष्ट्रपति जो बाइडन ने नरसंहार कहा है। बता दें कि, 18 वर्षीय एक बंदूकधारी ने अंधाधुंध गोलीबारी करके 18 बच्चों समेत 23 लोगों की हत्या कर दी और कई अन्य इस घटना में घायल हो गए। हालांकि पुलिस कार्रवाई में हमलावर मारा गया। अमेरिका के सैन एंटोनियो से 134 किलोमीटर दूर टेक्सास के उवाल्डे शहर के रॉब एलीमेंट्री स्कूल में मंगलवार पूर्वाह्न करीब साढ़े 11 बजे गोलियों की आवाज सुनाई दीं। टेक्सास के गवर्नर ग्रेग एबॉट ने बताया कि हमलावर की पहचान साल्वाडोर रामोस के रूप में हुई है, जो स्कूल के पास के एक इलाके का रहने वाला था। अभी यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि हमला क्यों किया गया।
दो अधिकारियों को भी लगी गोलियां
एबॉट ने मंगलवार शाम को कहा, उसने भयंकर गोलीबारी करके लोगों की हत्या कर दी। इसमें 14 बच्चों और एक अध्यापक की मौत हो गई। बाद में मृतक संख्या बढ़ गई और गोलीबारी में 18 बच्चों और पांच वयस्कों की मौत होने की जानकारी दी गई। उन्होंने बताया कि कानून प्रवर्तन से जुड़े दो अधिकारियों को भी गोलियां लगी हैं, लेकिन उनके ठीक हो जाने की उम्मीद है। कानून प्रवर्तन के सूत्रों ने पुष्टि की कि रामोस के पास एक हैंडगन और एक एआर -15 अर्द्धस्वचालित राइफल थी। उसके पास उच्च क्षमता वाली मैगजीन भी थी। मृतकों के नाम और अन्य जानकारी अभी उपलब्ध नहीं कराई गई है। स्कूल की वेबसाइट के अनुसार, उसके छात्रों की आयु पांच वर्ष से 11 वर्ष है।
पुलिस की गोलीबारी में मारा गया हमलावर
उवाल्डे में पुलिस प्रमुख पेटे अरेडोंडो ने कहा, रोब एलीमेंट्री स्कूल में आज पूर्वाह्न 11 बजकर 32 मिनट पर बड़ी संख्या में लोग हताहत हुए। उन्होंने बताया कि हमलावर ने अकेले गोलीबारी की, जो पुलिस की गोलीबारी में मारा गया। अरेडोंडो ने बताया कि ये बच्चे दूसरी, तीसरी और चौथी कक्षा में पढ़ते थे और उनकी आयु सात से 10 साल के बीच थी। क्वाड शिखर वार्ता में शामिल होने के बाद जापान से लौट रहे अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन को गोलीबारी की इस घटना की जानकारी दी गई।

facebook twitter instagram