+

राजस्थान में दलित बच्चे की पिटाई करने के मामले में आरोपी को कड़ी से कड़ी सजा दी जानी चाहिए : राहुल

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने राजस्थान के जालौर में एक शिक्षक द्वारा एक दलित बच्चे को पीटे जाने संबंधी घटना की रविवार को निंदा की। उन्होंने कहा कि आरोपी को कड़ी से कड़ी सजा दी जानी चाहिए।
राजस्थान में दलित बच्चे की पिटाई करने के मामले में आरोपी को कड़ी से कड़ी सजा दी जानी चाहिए : राहुल
कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने राजस्थान के जालौर में एक शिक्षक द्वारा एक दलित बच्चे को पीटे जाने संबंधी घटना की रविवार को निंदा की। उन्होंने कहा कि आरोपी को कड़ी से कड़ी सजा दी जानी चाहिए।
जालौर जिले के एक निजी स्कूल में एक अध्यापक ने पानी का एक मटका छूने पर नौ वर्षीय एक दलित बच्चे को कथित रूप से पीटा था, जिसके बाद शनिवार को उसकी मौत हो गई थी।
पुलिस ने 40 वर्षीय अध्यापक चैल सिंह को गिरफ्तार कर लिया है और उस पर हत्या और अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम की धाराओं के तहत आरोप लगाए हैं।
गांधी ने ट्वीट किया, ‘‘जालौर में निर्दयी शिक्षक द्वारा एक मासूम दलित बच्चे को बुरी तरह पीटे जाने के बाद उसकी मृत्यु की घटना बेहद दुखद है। मैं इस क्रूर कृत्य की भर्त्सना करता हूं। पीड़ित परिवार के प्रति मेरी संवेदनाएं। ’’
उन्होंने कहा, ‘‘आरोपी को कठोर धाराओं के तहत गिरफ्तार किया जा चुका है। उसे कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए।’’
भारतीय जनता पार्टी ने दलित लड़के की मौत के बाद निजी स्कूल के मालिक के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।
भाजपा की राजस्थान इकाई के अध्यक्ष सतीश पूनियां ने कहा कि ऐसी घटनाएं तब होती हैं जब राज्य सरकार और मुख्यमंत्री कमजोर होते हैं। पूनियां ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘पिछले साढ़े तीन साल में एक के बाद एक दलितों पर अत्याचार की घटनाएं हुई हैं और ऐसा तब होता है जब राज्य सरकार, मुख्यमंत्री कमजोर होते हैं। दोषियों को जल्द से जल्द सजा मिलनी चाहिए।’’
बहुजन समाज पार्टी ने भी इस घटना की निंदा की।
राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने घटना की निंदा करते हुए कहा कि मामले की त्वरित जांच के लिये इसे ‘केस ऑफिसर स्कीम’ में लिया जायेगा।
facebook twitter instagram