+

हमारे लिए 15 अगस्त की तरह शिलान्यास तिथि पांच अगस्त भी महत्वपूर्ण : कैलाश विजयवर्गीय

अयोध्या में भगवान राम के मंदिर की आधारशिला रखे जाने पर प्रसन्नता जताते हुए भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने बुधवार को कहा कि सनातन हिन्दू धर्म में आस्था रखने वाले लोगों के लिए देश के स्वतंत्रता दिवस की तरह इस मंदिर की शिलान्यास तिथि भी महत्वपूर्ण है।
हमारे लिए 15 अगस्त की तरह शिलान्यास तिथि पांच अगस्त भी महत्वपूर्ण : कैलाश विजयवर्गीय
अयोध्या में भगवान राम के मंदिर की आधारशिला रखे जाने पर प्रसन्नता जताते हुए भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने बुधवार को कहा कि सनातन हिन्दू धर्म में आस्था रखने वाले लोगों के लिए देश के स्वतंत्रता दिवस की तरह इस मंदिर की शिलान्यास तिथि भी महत्वपूर्ण है। 
विजयवर्गीय ने यहां संवाददाताओं से कहा, "हमारे लिए जितना महत्वपूर्ण 15 अगस्त (स्वतंत्रता दिवस) है, उतना ही महत्वपूर्ण पांच अगस्त (राम मंदिर शिलान्यास तिथि) भी है क्योंकि यह तारीख सनातन धर्म को मानने वाले लोगों के लिए गौरव की बात है।" उन्होंने कहा, "हम स्वतंत्रता दिवस भी गौरवमयी तरीके से मनाते हैं। लेकिन अंग्रेजी राज से भारत की आजादी का पहला क्षण हमने नहीं देखा क्योंकि हमारा जन्म 15 अगस्त 1947 के बाद हुआ था।" 
विजयवर्गीय ने दावा किया, "देश की स्वतंत्रता के लिए जितने लोगों ने बलिदान दिया, पिछले 492 साल में (अयोध्या में राम जन्मभूमि पर) राम मंदिर के लिए उससे ज्यादा लोगों ने बलिदान दिया।"उन्होंने एक सवाल पर कहा, "लोगों की इच्छा है कि कृष्ण जन्मभूमि (मथुरा) और काशी विश्वनाथ मंदिर (वाराणसी) के परिसर भी मुक्त हों। पर आगे देखते हैं होता है क्या।"
विजयवर्गीय ने कहा कि तेजी से बढ़ती जनसंख्या के नियंत्रण पर भी देश में बहस होनी चाहिए क्योंकि आबादी की विकराल होती समस्या के सामने विकास कहीं न कहीं बौना सिद्ध हो रहा है।  
facebook twitter