+

कोविड-19 को लेकर अनिश्चितता के बीच सेंसेक्स और निफ्टी में मामूली गिरावट के साथ बंद हुए

कोविड-19 महामारी को लेकर अनिश्चितता के बीच बृहस्पतिवार को सेंसेक्स और निफ्टी मामूली गिरावट के साथ बंद हुए।
कोविड-19 को लेकर अनिश्चितता के बीच सेंसेक्स और निफ्टी में मामूली गिरावट के साथ बंद हुए
कोविड-19 महामारी को लेकर अनिश्चितता के बीच बृहस्पतिवार को सेंसेक्स और निफ्टी मामूली गिरावट के साथ बंद हुए। इस महामारी की वजह से निवेशकों ने सतर्कता का रुख अपनाया हुआ है। बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स सकारात्मक रुख के साथ खुला, लेकिन बाद में इसने अपना समूचा लाभ गंवा दिया और यह 59.14 अंक यानी 0.15 प्रतिशत के नुकसान से 38,310.49 अंक पर बंद हुआ। 
इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 7.95 अंक यानी 0.07 प्रतिशत के नुकसान से 11,300.45 अंक पर आ गया। 
सेंसेक्स की कंपनियों में भारती एयरटेल के शेयर में सबसे अधिक दो प्रतिशत की गिरावट आई। सन फार्मा, आईटीसी, भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई), एक्सिस बैंक, एचडीएफसी बैंक, एचडीएफसी और नेस्ले इंडिया के शेयर भी नुकसान में रहे। 

मजबूत विदेशी संकेतों से घरेलू शेयर बाजार तेज, 100 अंक चढ़ा सेंसेक्स


वहीं दूसरी ओर एलएंडटी का शेयर चार प्रतिशत से अधिक चढ़ गया। टाइटन, एचसीएल टेक, एनटीपीसी और अल्ट्राटेक सीमेंट के शेयर भी लाभ में रहे। आनंद राठी के प्रमुख (इक्विटी शोध-बुनियादी) नरेंद्र सोलंकी ने कहा, ‘‘एशियाई बाजारों में मिले जुले रुख के बीच भारतीय बाजार सकारात्मक रुख के साथ खुले, लेकिन दोपहर के कारोबार में मुनाफा वसूली का सिलसिला चलने से बाजार नुकसान के साथ बंद हुए।’’ कारोबारियों ने कहा कि वैश्विक बाजारों से संकेतकों के अभाव और कोविड-19 के मामले बढ़ने से निवेशकों ने सतर्क रुख अपनाया हुआ है। 
अन्य एशियाई बाजारों में चीन का शंघाई कम्पोजिट, जापान का निक्की और दक्षिण कोरिया का कोस्पी लाभ में रहे। वहीं, हांगकांग के हैंगसेंग में गिरावट आई। शुरुआती कारोबार में यूरोपीय बाजार भी नीचे चल रहे थे। अंतरराष्ट्रीय बेंचमार्क ब्रेंट कच्चा तेल का वायदा 0.20 प्रतिशत के नुकसान से 45.34 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया। अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपया एक पैसे के नुकसान के साथ 74.84 प्रति डॉलर पर बंद हुआ। 

facebook twitter