+

डोईवाला : सिमलासग्रांट में नही थम रहा हाथियों का आतंक

दुधली और सिमलासग्रांट क्षेत्र में नही थम रहा जंगली हाथियों का आतंक। डोईवाला तहसील के अंतर्गत नागल ज्वालापुर, सिमलासग्रांट व दुधली में आए दिन जंगली हाथी फसलों को नुकसान पहुंचा रहे है।
डोईवाला : सिमलासग्रांट में नही थम रहा हाथियों का आतंक
डोईवाला, (पंजाब केसरी): दुधली और सिमलासग्रांट क्षेत्र में नही थम रहा जंगली हाथियों का आतंक। डोईवाला तहसील के अंतर्गत नागल ज्वालापुर, सिमलासग्रांट व दुधली में आए दिन जंगली हाथी फसलों को नुकसान पहुंचा रहे है।
बीते मंगलवार और बुधवार की रात्रि को भी सिमलासग्रांट में हाथियों की चहल कदमी देखी गई, जहां उन्होंने एक खेत में घुसकर गन्ने की फसल बर्बाद कर दी। इससे पूर्व में भी कई बार हाथी सुरक्षा दीवार को लांग कर किसानों की फसल को रौंद चुके है।
भूस्वामी त्रिलोक सिंह बोरा ने बताया की जंगली हाथियों द्वारा उनकी दो बीघा भूमि पर खड़ी गन्ने की फसल को नष्ट कर दिया गया, जिससे उन्हें बेहद ही ज्यादा आर्थिक नुकसान पहुंचा है। बताया की वर्ष 2020 में भी हाथियों द्वारा उनकी फसल को नुकसान पहुंचाया गया था, जिस पर सरकार की ओर से अब तक कोई उचित कार्यवाही या मुआवजा मुहैया नहीं करवाया गया। 
किसान भूपेंद्र सिंह बोरा ने बताया की जंगली हाथियों द्वारा आए दिन गन्ने की फसल को क्षति पहुंचाने से किसान बहुत परेशान है। कहा की काफी समय से पहले हाथियों द्वारा सुरक्षा दीवार तोड़ दी गई थी, जिसको की अब तक भी संबंधित विभाग द्वारा पुनर्निर्माण नही करवाया गया।
जिस कारण हाथियों को फसल नष्ट करने के लिए एक मार्ग मिल गया है। भूपेंद्र ने सरकार से सुरक्षा दीवार पुनः बनवाने व फसल के मुआवजा की मांग की।
facebook twitter instagram