इन 6 पौधों को घर में लगाने से कभी नहीं आती है दरिद्रता

पेड़ और पौधे जितने पर्यावरण को साफ रखते हैं उतना ही धार्मिक और वैज्ञानिक रूप से भी उन्हें लगाना बहुत लाभकारी होता है। पेड़-पौधों को वैज्ञानिक रूप से देखा जाए तो वह मनुष्य को ऑक्सीजन देते हैं। इसके साथ ही वातावरण में भी शुद्धता आती है।

अगर धार्मिक तौर पर देखा जाए तो पेड़-पौधे लगाने से नकारात्मक ऊर्जा चली जाती है और जीवन में सुख और समृद्धि का प्रवेश होता है। आज हम आपको उन पौधों के बारे में बताएंगे जिसे घर में लगाने से सुख और समृद्धि आती है। चलिए जानते हैं वह कौन से पौधे हैं।

1. तुलसी का पौधा

हिंदू धर्म में तुलसी के पौधे को शुभ माना गया है। हिंदू धर्म में तो यह कहा गया है कि हर घर में एक तुलसी का पौधा जरूर होना चाहिए। तुलसी का पौधा घर की सारी नकारात्मक ऊर्जा को दूर करता है और आपके विचारों को सकरात्मक ऊर्जा आती है। इसके साथ ऐसा भी माना जाता है आपके घर में तुलसी का पौधा है तो यमराज भी कभी आपके घर में नहीं आएंगे। इतना ही नहीं आपके घर में कभी किसी भी तरह की बुरी आत्मा भी प्रवेश नहीं कर सकती है। तुलसी को वृंदा का रूप और नारायण प्रिया भी कहा जाता है। हिंदू धर्म में कहा गया है कि जिस भी घर में तुलसी का पौधा होता है उस घर में किसी भी तरह की कमी कभी नहीं होती है।

2. कड़ी पत्ता या मीठा नीम का पौधा

कड़ी के पत्ते का पौधा और मीठा नीम का पौधा आपको आसानी से नहीं मिल सकता है। लेकिन अगर यह पौधे आपके घर में है तो आपको घबराने की जरूरत नहीं है। यह पौधे घर में सकारात्मक ऊर्जा पैदा करते हैं। इसके साथ ही शनि, राहु और केतु यह सारे इस पौधे से बहुत खुश होते हैं। अगर आप इन तीनों को प्रसन्न करना चाहते हैं तो जरूर इन पौधों में से एक को लगा लें।

3. आंवले का पौधा

हिंदू धर्म में कहा गया है कि घर पर आंवले का पौधा लगाने से मां लक्ष्मी खुद चलकर वास करने आती हैं। ऐसा इसलिए माना जाता है क्योंकि भगवान कृष्ण और विष्णु इस पौधे में वास करते हैं। जिस घर में भगवान विष्णु वास करते हैं उस घर में हमेशा लक्ष्मी जी भी वास करती हैं। इस पौधे का आप जमीन या फिर गमले के रूप में अपने घर में रख सकते हैं। अगर आप इस पौधे को नहीं कर पाते हैं तो आप आंवले के पौधे का चित्र अपने घर में लगा लें।

4. पारिजात वृक्ष

समुद्र मंथन के दौरान पारिजात वृक्ष की उत्पत्ति हुई थी। 14 रत्न समुद्र मंथन से धरती पर आए थे। समुद्र मंथन से आए 14 रत्नों में से एक पारिजात वृक्ष था। इस वृक्ष की विशेष बात यह है कि इस पौधे को छूने से मनुष्य की सारी थकान मिट जाती है। पारिजात वृक्ष देवताओं को बहुत पसंद होता है। ऐसा कहा जाता है कि जिस भी घर में यह वृक्ष होता है उस घर में देवताओं का वास होता है। उस घर में कभी भी दरिद्रता नहीं आती है। इस वृक्ष के सुगंधित फूलों से सारा वातावरण भी सुगंधित ही रहता है। इस वृक्ष को आप जमीन के साथ बड़े गमले में भी लगा सकते हैं।

5. केले का पेड़

हिंदू धर्म में कहा गया है कि केले के पेड़ पर भगवान विष्णु का वास होता है। इस पेड़ की पूजा गुरुवार को करनी चाहिए इससे घर में मां लक्ष्मी जी आती हैं। अगर आप अपने घर में केले का वृक्ष रख रहे हैं तो इसे ईशान कोण में रखें। इसके साथ ही ऐसा कहा गया है कि अगर छात्र इस पेड़ के नीचे बैठकर पढ़ते हैं तो उन्हें जल्दी पाठ याद होते हैं।

6. शमी का पौधा

घर में शमी का पौधा दाहिनी तरफ लगाना चाहिए। शनि का प्रकोप शमी के पेड़ की पूजा करने से कम हो जाता है। इस पेड़ की पूजा करने से आपके सारे काम सफल हो जाते हैं। गणेश जी का प्रिय वृक्ष शमी को माना जाता है। इसलिए मान्यता है कि शमी के वृक्ष की पत्तियां भगवान गणेश की पूजा करने के समय जरूर लगाएं।

कढ़ी पत्ता से होने वाले ये 5 गजब के फायदे आपको कर देंगे हैरान

Download our app