हरियाणा में कोविड-19 से संक्रमित का तीसरा मामला आया सामने, स्टाफ नर्स के रूप में है कार्यरत

हरियाणा के पानीपत में एक स्टाफ नर्स के कोरोना वायरस ‘कोविड-19’ से संक्रमित पाए जाने के बाद जिले में इसके पीड़ित का आकड़ा बढ़कर तीन हो गया है। 

जिला स्वास्थ्य विभाग के अनुसार पीड़ति युवती (21) गुरूग्राम के एक नामी अस्पताल में स्टाफ नर्स के रूप में कार्यरत है। वह 19 मार्च को गुरूग्राम से पानीपत अपने घर मॉडल टाउन में आई थी। घर आने के बाद युवती की सेहत बिगड़ गई। उसे बुखार, गले में खराश, सिर दर्द, जुकाम आदि हो गया। उसे चूंकि दवाइयों की जानकारी है और उसने अपने भाई के माध्यम से दवा मंगवाई और उनका सेवन किया मगर आराम नहीं हुआ। धीरे-धीरे कोरोना वायरस के लक्षण सामने आने लगे।

हालत बिगड़ती देख वह 23 मार्च को उपचार एवं सलाह के लिए पानीपत सिविल अस्पताल पहुंची। सिविल अस्पताल के चिकित्सकों ने युवती की मेडिकल जांच की और सैंपल लेकर परीक्षण के लिए भेज दिए। साथ ही उसे उपचार के लिए आईसोलेशन रूम में भर्ती कर लिया। 

बुधवार को युवती की मेडिकल रिपोर्ट पॉजीटिव पाई गई। युवती के कोरोना पीडित पाए जाने पर उसके तीनों परिजनों को स्वास्थ्य विभाग ने क्वांरटीन कर लिया। मेडिकल टीम ने युवती के घर और आसपास के क्षेत्र की जांच की। मेडिकल टीम ने युवती के परिजनों तथा उससे पूछताछ कर यह पता लगाने का प्रयास किया कि वह गुरुग्राम से पानीपत आने के बीच कितने लोगों से मिली। किस साधन से गुरुग्राम से पानीपत आई। 

गुरुग्राम में कितने लोगों से मिली। कोरोना पीड़ति युवती ने बताया कि चूंकि वह नर्स है और कोरोना को लेकर पहले से ही सतर्क थी। इसके चलते वह सावधानी पूर्वक गुरुग्राम से पानीपत आई और यहां आने के बाद अपने परिजनों के अलावा किसी से नहीं मिली।
Tags : Chhattisgarh,Congress,Raipur,रमन सरकार,Raman Sarkar,Tribal Department,Pathargarh agitation,Rishi Kashyap,developed,simultaneously,reigns,British,Article 370,Muslim ,Haryana,staff nurse,victim,district,Panipat