दो समुदायों के बीच दरार पैदा करने वाले कभी सफल नहीं होंगे : मुख्यमंत्री ममता

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को दो समुदायों को लड़ाने का प्रयास करने वालों को मंगलवार को चेताते हुए कहा कि लोगों के बीच दरार पैदा करने वाले कभी सफल नहीं होंगे। मुख्यमंत्री ने लोगों से कहा कि वे हर परिस्थितियों में अपने डिजिटल राशन कार्ड को अपनी पहुंच में रखें। 

बनर्जी ने कहा, ‘‘कुछ ऐसे लोग हैं जो पहाड़ियों में लोगों के बीच, उत्तर बंगाल में राजबंशियों एवं कामतापुरियों के बीच तथा पीढ़ियों से रह रहे सिखों, मुसलमानों, हिंदुओं, इसाइयों और बंगालियों तथा बंटवारे के बाद प्रदेश में आये लोगों के बीच दरार पैदा करना चाहते हैं।’’ 

ममता बनर्जी के 'अल्पसंख्यक अतिवादी' वाले बयान पर ओवैसी ने किया पटलवार

उन्होंने जोर देकर कहा, ‘‘जो लोग ऐसा करने की साजिश कर रहे हैं उन्हें कभी सफलता नहीं मिलेगी ।’’ दक्षिण दिनाजपुर में प्रशासनिक बैठक को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने दोहराया कि न तो राष्ट्रीय नागरिक पंजी और न ही नागरिकता संशोधन विधेयक राज्य में लागू होने देंगे । 

बनर्जी ने कहा, ‘‘अगर आपके पास नागरिकता का प्रमाण पत्र है, राशन कार्ड, मतदाता पहचान पत्र जैसे दस्तावेज हैं, तो ऐसे लोगों के बहकावे में आकर दिग्भ्रमित नहीं हों जो समुदायों को बांटना चाहते हैं और एक को दूसरे से लड़ाना चाहते हैं । 

उन्होंने कहा, ‘‘जिलों में डिजिटल राशन कार्ड जारी करने के लिए और अधिक शिविर स्थापित किये जाने चाहिए । तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ने कहा, ‘‘राष्ट्रीय नागरिक पंजी बंगाल में लागू नहीं किया जायेग लेकिन आप इस बात से आश्वस्त हों कि आपके पास वैध दस्तावेज हैं। आप भले ही राशन की दुकान से अनाज नहीं ले रहे हों लेकिन आपका डिजिटल राशन कार्ड आपकी पहुंच में होना चाहिए।’’ 
Tags : Badrinath,चारधाम यात्रा,बद्रीनाथ,हिमपात,Snow,भीषण ठंड,Kedarnath Dham,केदारनाथ धाम,Chardham Yatra,Gruzing cold ,communities,Mamata Banerjee,Chief Minister,Shimla,Bengal