+

समय पर पूरी होने वाली ढांचागत परियोजनाओं से आत्मनिर्भर भारत का रास्ता खुलेगा : गडकरी

केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि समय पर पूरी होने वाली बेहतर गुणवत्ता की बुनियादी ढांचा परियोजनाओं से ‘आत्मनिर्भर भारत’ का लक्ष्य हासिल करने में मदद मिलेगी। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि पर्यावरण मंजूरी हासिल करना सबसे बड़ी समस्या है।
समय पर पूरी होने वाली ढांचागत परियोजनाओं से आत्मनिर्भर भारत का रास्ता खुलेगा : गडकरी
केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि समय पर पूरी होने वाली बेहतर गुणवत्ता की बुनियादी ढांचा परियोजनाओं से ‘आत्मनिर्भर भारत’ का लक्ष्य हासिल करने में मदद मिलेगी। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि पर्यावरण मंजूरी हासिल करना सबसे बड़ी समस्या है। 
राष्ट्रीय कार्यक्रम एवं परियोजना प्रबंधन नीति रूपरेखा (एनपीएमपीएफ) के वर्चुअल आयोजन को संबोधित करते हुए गडकरी ने बुधवार को कहा कि ईमानदार अधिकारियों को समर्थन देने की जरूरत है, अन्यथा वे निर्णय नहीं ले पाएंगे। 
मंत्री ने कहा, ‘‘बेहतर गुणवत्ता की पर्यावरण अनुकूल और समय पर पूरी होने वाली बुनियादी ढांचा परियोजनाओं से आत्मनिर्भर भारत का रास्ता खुलेगा।’’ 
गडकरी एमएसएमई मंत्री भी हैं। उन्होंने स्पष्ट किया कि पर्यावरण नियमन महत्वपूर्ण हैं। 
उन्होंने कहा, ‘‘हम पर्यावरण नियमनों से समझौता नहीं करना चाहते हैं, लेकिन बुनियादी ढांचा परियोजनाओं के लिए पर्यावरण मंजूरी में बहुत अधिक विलंब से हमें मौद्रिक नुकसान होता है।’’ गडकरी ने इस बात पर जोर दिया कि सरकारी अधिकारियों को जमीनी स्तर पर समस्याओं की पहचान करनी चाहिए। , 
इसी कार्यक्रम को संबोधित करते हुए रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि बुनियादी ढांचा आत्मनिर्भर भारत की रीढ़ की हड्डी है। 
गोयल ने कहा, ‘‘नव भारत में हम चाहते हैं कि सभी को गुणवत्ता वाला बुनियादी ढांचा मसलन विश्वस्तरीय बंदरगाह, सड़कें, रेल और हवाई मार्ग उपलब्ध हों।’’ 
facebook twitter instagram