+

उत्पीड़न से तंग आकर विवाहिता ने लगाई फांसी, बचाने के बजाय ससुराल वाले बनाते रहे वीडियो

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले में एक दिल दहलाने वाली घटना सामने आई है। जहां ससुरालियों के उत्पीड़न से तंग आकर एक महिला ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली, लेकिन हैरानी की बात तो ये है कि उसे बचाने के बजाए सुसराल वाले घटना का वीडियो बनाते रहे।
उत्पीड़न से तंग आकर विवाहिता ने लगाई फांसी, बचाने के बजाय ससुराल वाले बनाते रहे वीडियो
उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले में एक दिल दहलाने वाली घटना सामने आई है। जहां ससुरालियों के उत्पीड़न से तंग आकर एक महिला ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली, लेकिन हैरानी की बात तो ये है कि उसे बचाने के बजाए सुसराल वाले घटना का वीडियो बनाते रहे। 
मृतक कोमल के माता-पिता ने आरोप लगाया है कि उसके ससुराल वाले उसे दहेज के लिए तंग करते थे, जिससे परेशान होकर उसने यह कदम उठाया। हालांकि पुलिस ने महिला के ससुर और सास को गिरफ्तार कर लिया गया है, जबकि उनके पति, आशीष और उनके देवर फरार हैं। 
वीडियो में साफ दिख रहा है कि उसने गले में चुन्नी बांधी, फंदे में गांठ लगाई और लटक गई। लेकिन ससुराल वालों ने उसे बचाना ज्यादा जरुरी नहीं समझा और बाहर खड़े होकर वीडियो बनाते रहे। जैसे ही वह फांसी पर लटक जाती है, तब एक आदमी आवाज देकर कहता है कि "अपने आप लटक रही है।"आदमी की आवाज उसके ससुर के जैसी लग रही है। 
एसपी (सिटी) अर्पित विजयवर्गीय ने इस बात की पुष्टि की है कि वीडियो को उस कमरे के बाहर से रिकॉर्ड किया गया है, जिसमें महिला ने खुद को फांसी लगाई है। उन्होंने कहा, लड़की के ससुरालवालों ने उसे (महिला) खुदकुशी करने से रोकने की कोशिश की थी। 
कोमल और आशीष की शादी सितंबर 2019 में हुई थी। पीड़िता के पिता अनिल कुमार ने पुलिस को बताया, "मैंने शादी के समय उसके परिवार को 5 लाख रुपये और एक बाइक दी थी। लेकिन लड़के के पिता देवेंद्र, मां सविता और भाई सचिन खुश नहीं थे। लगभग छह महीने पहले उन्होंने कोमल की पिटाई भी की थी और उसे घर से निकाल दिया था।"
उन्होंने कहा, "दो महीने पहले फिर से1.2 लाख रुपये की मांग की गई थी। उन्होंने कहा था कि अगर दहेज नहीं दोगे तो आशीष की शादी किसी और से शादी करा देंगे। इन चारों ने मिलकर मेरी बेटी की हत्या कर दी।"
आशीष, उसके भाई और उसके माता-पिता पर अब धारा 304 बी (दहेज के लिए हत्या), 498 ए (विवाहित महिला के साथ क्रूरता) और आईपीसी की धारा 506 (आपराधिक धमकी) और दहेज निषेध अधिनियम की धारा 3 (दहेज लेना या देना) और 4 (दहेज मांगना) के तहत मामला दर्ज कर लिया है। 
छपार पुलिस स्टेशन के एसएचओ यशपाल सिंह ने कहा, "महिला के सास-ससुर को गिरफ्तार कर लिया है, लेकिन आशीष और उसका भाई सचिन फरार हैं। हम उन्हें जल्द ही गिरफ्तार कर लेंगे।"
facebook twitter instagram