वर्ल्ड क्लास नहीं कड़ी-टुकड़ी कमरे में चल रहा बच्चों का अध्ययन

नई दिल्ली : भाजपा दिल्ली अध्यक्ष मनोज तिवारी और दिल्ली विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष विजेंद्र गुप्ता ने गुरुवार को त्रिलोकपुरी स्थित सर्वोदय बाल विद्यालय का निरीक्षण किया। इस स्कूल के एक कक्षा में पंखा गिरने से एक छात्र का सिर फट गया था। स्कूल का निरीक्षण करने के बाद भाजपा नेता जीटीबी अस्पताल गए, जहां उन्होंने छात्र का हाल जाना। तिवारी ने कहा कि स्कूल के छात्र की हालत गंभीर बनी हुई है। यहां के जनप्रतिनिधि होने के नाते और मामले की गंभीरता को समझते हुए हमने इस स्कूल का निरीक्षण किया। 

यह अत्यंत दुखद घटना है, लेकिन भविष्य में ऐसी घटना दोबारा न हो इसकी जिम्मेदारी हम सबकी है। स्कूल के कमरें की छत से पंखा गिरना एक बड़ी लापरवाही की ओर इशारा करता है। पंखा गिरने से छात्र के अंग विकृत हो सकते थे। दिल्ली भाजपा बड़े स्तर पर हुई इस लापरवाही के लिए जांच करने के साथ-साथ दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही करने का मांग करती है। 

मनीष सिसोदिया वर्ल्ड क्लास का कमरा बनाने का दावा करते हैं लेकिन मौका पर देखने पर स्कूल में ऐसा कुछ भी नहीं है जो सामान्य स्कूलों से ऊपर हो। कड़ी-टुकड़ी से बनाए गए स्कूल के सहारे बच्चों को नहीं छोड़ा जा सकता क्योंकि इस तरह के स्कूल बनने से बच्चों की जान को खतरा है। इसके साथ ही 5 लाख की जगह स्कूल बनाने में 25 लाख खर्च करने की बात हो रही है। 

जिस लागत की बात की जा रही है स्कूल बनाने में उससे पांच गुना कम खर्च किया गया है और स्कूल बनाने में बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार हुआ है। इसके दोषियों को सजा मिलनी चाहिये क्योंकि यह छोटे-छोटे बच्चों के भविष्य का सवाल है।  
Tags : ,Children Run,World Class No Squad Room