+

विकास मुद्दों से भटकाने के लिए केवल जंगलराज एवं परिवारवाद की चर्चा कर राजनीतिक हनन का प्रयास किया जा रहा है

बिहार विधान परिषद में राज्यपाल फागू चौहान के अभिभाषण पर ‌वाद-विवाद में प्रतिपक्ष के नेता राबड़ी देवी एवं सत्तापक्ष के नीरज कुमार के बीच काफी तू-तू, मैं-मैं एवं शोर-शराबा होते रहा।
विकास मुद्दों से भटकाने के लिए केवल जंगलराज एवं परिवारवाद की चर्चा कर राजनीतिक हनन का प्रयास किया जा रहा है
बिहार विधान परिषद में राज्यपाल फागू चौहान के अभिभाषण पर ‌वाद-विवाद में प्रतिपक्ष के नेता राबड़ी देवी एवं सत्तापक्ष के नीरज कुमार के बीच काफी तू-तू, मैं-मैं एवं शोर-शराबा होते रहा। जिससे सदन शोर-शराबा एवं हंगामा में डूब गया।
इस पर प्रतिपक्ष के नेता राबड़ी देवी ने सत्ता पक्ष पर हमला बोलते हुए कहा कि बिहार में विकास के मुद्दों से भटकाने के लिए केवल जंगलराज एवं परिवारवाद की चर्चा कर राजनीतिक हनन का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने नीतीश कुमार के 15 वर्षों के सुशासन सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि सुशासन राज में सुशासन कानून-कानून का राग अलापा जा रहा है।
राज्य में हर जगह हत्या, चोरी, डकैती, अपहरण, बलात्कार की घटनाएं घट रही है। अपनी सरकार से मांग करने वाले कर्मचारियों को लाठी-डंडों से पीटा जा रहा है। गांव में बिजली के बड़े-बड़े पोल खड़ा कर दिया गया, लेकिन उससे बिजली नहीं पहुंच पा रही है।
जब केन्द्र में एनडीए की वाजपेयी जी की सरकार थी तो बिहार को विशेष राज्य का दर्जा मांगने गयी थी लेकिन नहीं मिला। केन्द्र सरकार ने राज्य सरकार को समय से पैसा नहीं देती थी जिससे राज्य में विकास कार्य बाधित हुआ। केन्द्र के एनडीए सरकार ने बिहार के साथ हमेशा सौतेलापन का व्यवहार किया है जिससे राज्य के विकास कोसो दूर रह गयी।
केन्द्र सरकार में आज आत्मनिर्भर बिहार ब नाने की बात खूब हो रही है लेकिन बिहार के लोग दूसरे राज्यों में रोजगार हेतु पलायन जारी है। सरकार केवल विकास के मुद्दों से भटकाने के लिए जंगल राज का नारा लगाते रहती है। यहां कौन दागी नहीं है।
उन्होंने कहा कि जितना लालू राबड़ी सरकार ने विकास किया उतना किसी सरकार ने नहीं किया। उन्हीं के विकास के बाद यहां विकास दिखती है हमारी सरकारने राज्य में बड़े पैमाने पर गरीबों को इंदिरा अवास, वृद्घा पेंशन दिया। जिसका स्टडी करने केलिए बाहर के लोग यहां आते थे।
उन्होंने कहा कि सत्ता पक्ष के लोगों को सच्चाई से डर लगता है क्योंकि इसका उजागर होने से दुनिया जान जायेगी। ये लोग बार-बार पंचायती राज की बात कर चुनाव में हवा देते रहते हैं। बिहार में सर्वप्रथम पंचायती राज का चुनाव हमारी ही सरकारने करवाया था।
उन्होंने सत्ता पक्ष पर हमलावर होते हुए कहा कि वे लोग बार बार अनपढ़ मुख्यमंत्री की बात करते हैं हम गरीबों के बाप-दादा पढ़े लिखे न हीं थे उस समय स्कूल नहीं रहने से राज्य के गरीब परिवार की महिलाएं पढ़ नही सकी। जब हमारी सरकार बनी तब राज्य में बड़े पैमाने पर स्कूल व कॉलेज विश्वविद्यालय खोल कर पढ़ाई कार्य शुरू किया गया और घर के बच्चे-बच्चियां पढ़ने लगे। तब से बिहार यहां पहुंचा।
उन्होंने कहा कि हमारे परिवार के लोगों की जमीन जायदाद का खुलासा बड़े बड़े टीवी चैनलों एवं अखबारों में की जाती रही है लेकिन मोदी जी का लोदीपुर कंकड़बाग लखनऊ दिल्ली जैसे बड़े बड़े स्थानों पर कई एकड़ जमीन एवं मकान है इसका एक भी खुलासा नहीं हुआ। सृजन घोटाला में उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी जी की बहन के नाम सामने आयी तो उस पर कोई चर्चा नहीं हुई। इस पर भी चर्चा होनी चाहिए।
facebook twitter instagram