+

पर्यावरण की रक्षा करनी है तो आदिवासियों को बचाना होगा: Hemant Soren

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत ने मंगलवार को कहा कि जनजातीय समुदाय एक स्वाभिमानी समुदाय है, जिसे कोई झुका नहीं सकता, कोई डरा नहीं सकता और न ही कोई हरा सकता है।
पर्यावरण की रक्षा करनी है तो आदिवासियों को बचाना होगा: Hemant Soren
झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत ने मंगलवार को कहा कि जनजातीय समुदाय एक स्वाभिमानी समुदाय है, जिसे कोई झुका नहीं सकता, कोई डरा नहीं सकता और न ही कोई हरा सकता है।
जनजातीय महोत्सव को संबोधित करते हुए सोरेन कहा -
उन्होंने कहा, ‘‘पर्यावरण की रक्षा करनी है, तो आदिवासियों को बचाना होगा, जल, जंगल, जीव-जंतु सभी अपने आप बच जाएंगे।’’ सोरेन ने रांची के मोरहाबादी मैदान में आयोजित झारखंड जनजातीय महोत्सव-2022 को संबोधित करते हुए कहा, जानवर बचाओ, जंगल बचाओ सब बोलते हैं पर आदिवासी बचाओ कोई नहीं बोलता। अगर आदिवासी को बचाएंगे तो जंगल जीव-जंतु सब बच जाएगा। उन्होंने कहा, ‘‘आज आदिवासी समाज के समक्ष अपनी पहचान को लेकर संकट खड़ा हो गया है। क्या यह दुर्भाग्य नहीं है कि जिस अलग भाषा संस्कृति-धर्म के कारण हमें आदिवासी माना गया उसी विविधता को आज के नीति निर्माता मानने के लिए तैयार नहीं हैं?
facebook twitter instagram