मंदिर परिसर में KCR की तस्वीरों को लेकर TRS सरकार निशाने पर आयी

हैदराबाद : तेलंगाना के यदाद्री मंदिर परिसर में कथित रूप से इस्तेमाल में लाए जाने वाले स्तंभों पर मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव, उनकी सरकार के महत्वपूर्ण कार्यक्रमों और कार की तस्वीरें बनायी जा रही है।

यादगिरीगुट्टा के मंदिर और उसके आसपास के क्षेत्रों का राज्य सरकार पुनरोद्धार एवं विकास करा रही है। यह मंदिर भगवान नरसिंह को समर्पित है। 

फिलहाल यह स्पष्ट नहीं है कि विशेष तौर पर तैयार इन स्तंभों का मंदिर में कहां या कितने हिस्सों में इस्तेमाल किया जाएगा। लेकिन सरकार के इस कथित कदम को स्थानीय मीडिया द्वारा चर्चा का विषय बनाये जाने के बाद से अन्य राजनीतिक दल एवं उनके नेता इसकी आलोचना करने लगे हैं। 

वरिष्ठ कांग्रेस नेता मल्लु भट्टी विक्रमार्का ने कहा कि धार्मिक स्थलों पर कोई राजनीतिक गतिविधि या चित्रण नहीं होना चाहिए। 

उन्होंने संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘ क्या यह लोकतंत्र है या राजतंत्र? यह उपासना स्थल है जहां सभी राजनीतिक दलों के लोग जाते हैं। राजनीतिक गतिविधि की कोई गुजाइंश नहीं होनी चाहिए। मैं आपसे ऐसी सभी गतिविधियां रोकने का अनुरोध करता हूं।’’ 

भाजपा विधायक राजा सिंह ने एक वीडियो संदेश जारी करते हुए कहा , ‘‘ मैं मुख्यमंत्री से पूछता हूं कि क्या यह उनकी जानकारी में हो रहा है। यदि आपको इसकी जानकारी है तो इसे तत्काल रोकिए। अन्यथा इसके लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई कीजिए। मंदिर आपकी पार्टी के कोष या आपकी जेब से नहीं बनाया जा रहा है। यह सार्वजनिक धन है जिसे वहां खर्च किया जा रहा है। आपको लोगों से माफी मांगनी चाहिए।’’ 

इस संबंध में पूछने पर मंदिर परियोजना के एक अधिकारी ने कहा कि मंदिरों या उसके कुछ हिस्सों पर तस्वीरें उकेरना इतिहास में असामान्य तो है नहीं । उन्होंने पीटीआई भाषा से कहा कि वह इस संबंध में मंदिर के वास्तुकार से पूछें।

Tags : Narendra Modi,कांग्रेस,Congress,नरेंद्र मोदी,राहुल गांधी,Rahul Gandhi,punjabkesri ,government,TRS,attack,KCR,temple premises