ट्रंप ने सीरिया से सैनिक हटाने के कदम का किया बचाव, डेमोक्रेट्स का व्हाइट हाउस से वॉकआउट

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने उत्तरी सीरिया से अमेरिकी सैनिकों को वापस बुलाने के फैसले का बचाव करते हुए कहा कि अमेरिका देश से 7,000 मील दूर हो रहे, “उन्मादी अंतहीन युद्धों” में शामिल नहीं होने वाला है। पिछले हफ्ते लिए गए ट्रंप के इस फैसले से तुर्की को सीरिया में कुर्द लड़ाकों के खिलाफ सैन्य अभियान चलाने का मौका मिल गया था। 

कई सांसदों ने कुर्द बलों का साथ छोड़ने के इस कदम की आलोचना की है जो आईएसआईएस के खिलाफ अमेरिका की जंग में अहम थे। ट्रंप ने व्हाइट हाउस में कहा, “जब मैंने चुनाव लड़ा था, इस आधार पर लड़ा था कि हम हमारे महान सैनिकों को वापस लेकर आएंगे जहां से उनका नाता है। हमें ये अंतहीन युद्ध लड़ते रहने की जरूरत नहीं है। हम उन्हें घर वापस लेकर आने वाले हैं। इसी वादे पर मुझे जीत मिली थी।” 

फारूक अब्दुल्ला की बहन सुरैया और बेटी साफिया को कोर्ट ने जमानत पर दी रिहाई

वहीं सीरिया मुद्दे पर बुधवार को व्हाइट हाउस में हुई बैठक से कई डेमोक्रेट सांसदों ने यह दावा करते हुए वॉकआउट किया कि ट्रंप ने अध्यक्ष नैन्सी पेलोसी को ‘‘तीसरे दर्जे की राजनीतिक” कहकर उनका अपमान किया। व्हाइट हाउस ने डेमोक्रेटस और रिपब्लिकन्स दोनों के शीर्ष समिति सदस्यों एवं नेतृत्व और कांग्रेस सदस्यों को सीरिया पर नीति के बारे में जानकारी देने के लिए बुलाया था। 

Tags : Railway Board,Punjab Kesari,हाजीपुर,Hajipur,246 Water Vending Machines ,Donald Trump,troops,walkout,Syria,wars,Democrats,White House,US,country