+

सुरंग हादसा: मृतक मजदूरों के परिजनों को 16-16 लाख रुपये मुआवजा मिलेगा

जम्मू-कश्मीर के रामबन जिले में जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर एक निर्माणाधीन सुरंग का हिस्सा ढहने से जान गंवाने वाले 10 मजदूरों के परिजनों को 16-16 लाख रुपये की मुआवजा राशि दी जाएगी।
सुरंग हादसा: मृतक मजदूरों के परिजनों को 16-16 लाख रुपये मुआवजा मिलेगा
जम्मू-कश्मीर के रामबन जिले में जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर एक निर्माणाधीन सुरंग का हिस्सा ढहने से जान गंवाने वाले 10 मजदूरों के परिजनों को 16-16 लाख रुपये की मुआवजा राशि दी जाएगी। एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने शनिवार को यह जानकारी दी।
बचाव अभियान किया गया समाप्त 
सुरंग में हुए हादसे के दो दिन बाद शनिवार को मलबे से नौ और शव बरामद किए गए, जिससे इस दुर्घटना में मरने वालों की संख्या बढ़कर 10 हो गई है। अधिकारियों ने बताया कि सभी लापता श्रमिकों के शव बरामद होने के साथ ही दो दिन तक चला बचाव अभियान शनिवार देर शाम समाप्त हो गया।
कंपनी ने सभी मृतकों के परिजनों को  15 -15 लाख की आर्थिक सहायता देने का किया ऐलान 
उनमें पांच श्रमिक पश्चिम बंगाल के, दो दो श्रमिक जम्मू कश्मीर एवं नेपाल के तथा एक श्रमिक असम का था। उपायुक्त मुसर्रत इस्लाम ने कहा कि उपराज्यपाल मनोज सिन्हा से मिले निर्देश के अनुसार निर्माण कार्य कर रही कंपनी द्वारा सुरंग हादसे में जान गंवाने वाले मजदूरों के परिजनों को 15-15 लाख रुपये मुआवजा दिया जाएगा।
राज्यपाल ने घायलों की उपचार व्यवस्था दुरूस्त करने के दिए निर्देश 
उन्होंने कहा कि उपराज्यपाल ने भी मृतकों के परिजनों को एक-एक लाख रुपये की अनुग्रह राशि की घोषणा की है। इस बीच, उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने सुरंग हादसे में जान गंवाने वाले मजदूरों की मौत पर शोक व्यक्त किया। साथ ही घायलों के लिए बेहतर उपचार व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।
नेशनल कांफ्रेस ने ट्वीट कर मृतकों के प्रति संवेदनाए प्रकट की 
नेशनल कॉन्फ्रेंस (नेकां) के उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला ने इस घटना में लोगों की मौत को दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया। उमर ने ट्वीट कर कहा, ''बेहद दुर्भाग्यपूर्ण। रामबन में कार्यस्थल पर हुई दुर्घटना में मारे गए दस लोगों के परिवारों के प्रति मेरी संवेदनाएं। शोकाकुल परिवारों को यह दुख सहन करने की शक्ति मिले।''
 
facebook twitter instagram