तुर्की ने अमेरिका से एफ-35 कार्यक्रम पर फैसले को पलटने का आह्वान किया

तुर्की सरकार ने बृहस्पतिवार को कहा कि एफ-35 लड़ाकू विमान कार्यक्रम से उनके देश को बाहर करने का अमेरिका का फैसला ‘‘गठबंधन की भावना’’ के खिलाफ है और उसने अपने नाटो सहयोगी से फैसले को पलटने का आह्वान किया । अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने बुधवार को कहा था कि रूस की एस-400 वायु रक्षा प्रणाली खरीदने के कारण तुर्की को एफ-35 कार्यक्रम से बाहर किया जा रहा है। 

अमेरिका ने कहा कि एस-400 प्रणाली एफ-35 कार्यक्रम से समझौता करेगी और रूस की खुफिया एजेंसी को मदद देगी। तुर्की के विदेश मंत्रालय ने एक बयान में इस दावे को खारिज किया और कहा कि कार्यक्रम से तुर्की को बाहर करने का फैसला न्यायोचित नहीं है। मंत्रालय ने कहा, ‘‘यह एकतरफा कदम गठबंधन की भावना के अनुरूप नहीं है और यह किसी वैध तर्क पर आधारित नहीं है।’’ 

उसने कहा, ‘‘तुर्की को इस कार्यक्रम से बाहर रखना ही अनुचित नहीं है बल्कि यह दावा कि एस-400 प्रणाली से एफ-35 को खतरा होगा भी अवैध है।’’ उसने कहा, ‘‘हम अमेरिका से इस गलती को सुधारने का आह्वान करते हैं। इस गलती से हमारे सामरिक रिश्तों को अपूरणीय क्षति होगी।’’ 

दबाव-हड़ताल के आगे झुकना देश से गद्दारी, सुधार जारी रहेंगे : इमरान


Download our app
×