+

लालू यादव से संबंधित सुशील मोदी के ट्वीट को ट्विटर ने किया डिलीट

पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने मंगलवार रात सनसनीखेज दावा किया कि लालू जेल में रहते हुए एनडीए के विधायकों को फोन कर रहे हैं। इसके साथ ही उन्होंने ट्विटर पर एक ऑडियो क्लिप भी जारी किया था।
लालू यादव से संबंधित सुशील मोदी के ट्वीट को ट्विटर ने किया डिलीट
बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता सुशील कुमार मोदी के आरजेडी अध्यक्ष लालू यादव से संबंधित ट्वीट को ट्विटर ने डिलीट कर दिया। सुशील मोदी ने लालू पर विधायकों की खरीद-फरोख्त का प्रयास करने और नवगठित सरकार को गिराने की साजिश का आरोप लगते हुए एक नंबर सार्वजानिक किया था। ट्विटर के मुताबिक, इस ट्वीट में नियमों का उल्लंघन किया गया है।
पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने मंगलवार रात सनसनीखेज दावा किया कि लालू जेल में रहते हुए एनडीए के विधायकों को फोन कर रहे हैं। इसके साथ ही उन्होंने ट्विटर पर एक ऑडियो क्लिप भी जारी किया था। उन्होंने कहा कि लालू एनडीए विधायकों को मंत्री बनाने तक का ऑफर दे रहे हैं।  विधानसभा स्पीकर के चुनाव से पहले सुशील मोदी के इस दावे ने बिहार की सियासत में हलचल मचा दी।

रामविलास पासवान के निधन के बाद राज्यसभा की खाली सीट पर NDA में असमंजस, लोजपा ने की ये मांग

मोदी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर डेढ़ मिनट की क्लिप साझा की जिसमें लालू को अपने अंदाज में पीरपैंती के विधायक ललन कुमार से बातचीत करते सुना जा सकता है। ऑडियो में लालू को यह कहते हुए सुना जा सकता है कि हम आपका ठीक से ख्याल रखेंगे, आप कल विधानसभा अध्यक्ष पद के चुनाव में एनडीए उम्मीदवार को हराने में हमारी मदद कीजिए। 
ऑडियो में विधायक अपनी पार्टी के खिलाफ वोट करने में अपनी दिक्कतों को बता रहे हैं जिस पर लालू कहते हैं ‘‘आपको चिंतित होने की जरूरत नहीं है। हमारा अपना विधानसभा अध्यक्ष होगा। हम इस सरकार को गिराकर अपनी सरकार बनाते ही आपको पुरस्कृत करेंगे।’’ बीजेपी विधायक ने ऑडियो क्लिप की पुष्टि की और कहा कि सुशील कुमार मोदी की मौजूदगी में बातचीत हुई, जिसका भान संभवत: आरजेडी सुप्रीमो को नहीं था। 
ललन कुमार ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘मैं सुशील कुमार मोदी के साथ बैठक में था जब मेरा निजी सचिव आया और सूचित किया कि मेरे मोबाइल पर लालू प्रसाद का फोन है। मुझे आश्चर्य हुआ लेकिन सोचा कि कई अन्य लोगों की तरह उन्होंने चुनावी जीत पर बधाई देने के लिए फोन किया होगा।’’ 
विधायक ने कहा, ‘‘वह काफी वरिष्ठ नेता हैं। इसलिए मैंने उन्हें प्रणाम किया। वह सरकार गिराने की बात करने लगे। मैंने उन्हें बताने का प्रयास किया कि मैं पार्टी के अनुशासन से बंधा हुआ हूं। फोन बीच में रोकते हुए मैंने सुशील मोदी को सूचित किया।’’ 
मोदी ने मंगलवार की रात ट्वीट कर दावा किया कि उन्होंने राजद सुप्रीमो को फोन कर ‘‘गंदे तरीके’’ अपनाने के खिलाफ चेतावनी दी। उन्होंने अपनी पार्टी के नेता विजय कुमार सिन्हा के विधानसभा अध्यक्ष निर्वाचित होने पर उन्हें बधाई देते हुए कहा, ‘‘लालू प्रसाद का षड्यंत्र विफल हो गया।’’ राजद प्रमुख चारा घोटाले के कई मामलों में आजीवन कारावास की सजा भुगत रहे हैं। 
facebook twitter instagram