+

गृहमंत्री अमित शाह ने कच्छ में 'विकास उत्सव 2020' का किया उद्घाटन, विपक्ष पर जमकर बोला हमला

अमित शाह ने कहा, जब मैं भूकंप के बाद 2001 में भुज आया था, तब यह जर्जर था। आज कच्छ और भुज फिर से खड़ा हो गया है, इसका सम्पूर्ण श्रेय मोदीजी की दूरदर्शिता और भुज के लोगों का संघर्ष करने का जज्बा और परिश्रम की पराकाष्ठा को जाता है।
गृहमंत्री अमित शाह ने कच्छ में 'विकास उत्सव 2020' का किया उद्घाटन, विपक्ष पर जमकर बोला हमला
गुजरात पहुंचे केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने गुरुवार को कच्छ में 'विकास उत्सव 2020' का उद्धाटन किया। इस दौरान उन्होंने प्राकृतिक आपदा भूकंप से उभरे कच्छ के नए स्वरुप को देखकर बड़ा संतोष प्रकट किया। वहीं उन्होंने विपक्षी दलों पर जमकर हमला बोला।
उन्होंने कहा, जब मैं भूकंप के बाद 2001 में भुज आया था, तब यह जर्जर था। आज कच्छ और भुज फिर से खड़ा हो गया है , अब यहां बड़ी संख्या में मॉल और इमारतें खड़ी कर दी गई हैं। इसका सम्पूर्ण श्रेय मोदीजी की दूरदर्शिता और भुज के लोगों का संघर्ष करने का जज्बा और परिश्रम की पराकाष्ठा को जाता है। 
विपक्ष पर हमला बोलते हुए अमित शाह ने कहा, कुछ नेता हर चीज को वक्र दृष्टि से देखते हैं। कुछ भी अच्छा हो कोई कमी जरूत निकालनी है। उन्हें लगता है कि सौ बार झूठ बोलेंगे तो लोगों को झूठ सच लगने लगेगा लेकिन लोग जानते हैं कि ये वक्र दृष्टि वाले झूठ बोल रहे हैं।
उन्होंने कहा कि राम मंदिर, धारा 370 और भारत की सीमा को लेकर वक्र दृष्टि वालों ने ऐसी बातें बनाईं, बिहार, गुजरात, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, कर्नाटक, तेलंगाना, मणिपुर, लेह लद्दाख में हुए व्रक दृष्टि पार्टी का सूफड़ा साफ कर दिया। पूरी दुनिया को संदेश दिया है कि देश की 130 करोड़ जनता मोदी के साथ चट्टान की तरह खड़ी है। जनादेश इस बात को साबित करता है।
facebook twitter instagram