+

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा- कृषि अवसंरचना कोष से किसानों को मिलेगा फायदा, रोजगार पैदा होंगे

शाह ने सिलसिलेवार ट्वीट कर कहा कि कृषि भारतीय अर्थव्यवस्था की नींव है, जिसे सशक्त करने के लिए मोदी सरकार विगत छह वर्षों से प्रयासरत है। उन्होंने कहा कि किसानों की आय दोगुनी करने और कृषि विकास के लिए कई अभूतपूर्व कदम उठाए गए हैं
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा- कृषि अवसंरचना कोष से किसानों को मिलेगा फायदा, रोजगार पैदा होंगे
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार को कृषि अवसंरचना कोष के तहत एक लाख करोड़ रुपये की वित्तपोषण सुविधा शुरू करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार व्यक्त किया और कहा कि इससे रोजगार के नए अवसर उत्पन्न होंगे और ग्रामीण अर्थव्यवस्था भी मजबूत होगी।

शाह ने सिलसिलेवार ट्वीट कर कहा कि कृषि भारतीय अर्थव्यवस्था की नींव है, जिसे सशक्त करने के लिए मोदी सरकार विगत छह वर्षों से प्रयासरत है। उन्होंने कहा कि किसानों की आय दोगुनी करने और कृषि विकास के लिए कई अभूतपूर्व कदम उठाए गए हैं। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे विश्वास है कि मोदी जी के इन अथक प्रयासों से आने वाले समय में भारतीय कृषि विश्वस्तरीय होगी।’’

शाह ने कहा कि कृषि अवसंरचना कोष से कोल्ड स्टोरेज, संग्रह केंद्रों, प्रसंस्करण इकाइयों जैसे अनेक बुनियादी ढांचों के निर्माण को गति मिलेगी जिससे मेहनती किसान अपनी उपज का सही मूल्य प्राप्त कर पाएंगे। इससे पहले, प्रधानमंत्री ने किसान सम्मान निधि (पीएम-किसान) की छठी किस्त के तहत 8.5 करोड़ से भी अधिक किसानों को 17,100 करोड़ रुपये की राशि जारी की और कृषि अवसंरचना कोष के तहत एक लाख करोड़ रुपये की वित्तपोषण सुविधा शुरू की।

पीएम किसान के तहत किसानों को हर साल दो-दो हजार रुपये की तीन किस्तों में कुल छह हजार रुपये की सहायता दी जाती है। इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने कोविड-19 महामारी से उत्पन्न इस संकट से निपटने में देश के किसानों के योगदान की रविवार को प्रशंसा करते हुए कहा कि किसानों के चलते भारत की ग्रामीण अर्थव्यवस्था आज भी मजबूत है और इससे पूरी अर्थव्यवस्था को सहारा मिला है।

facebook twitter