+

उप्र : दुष्कर्म के आरोप में गिरफ्तार भाकियू कार्यकर्ताओं को संगठन से भी निकाला गया

सामूहिक दुष्कर्म की एक घटना के संबंध में गिरफ्तार किए जाने के बाद भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) के दो पदाधिकारियों को शुक्रवार को यूनियन से हटा दिया गया।
उप्र : दुष्कर्म के आरोप में गिरफ्तार भाकियू कार्यकर्ताओं को संगठन से भी निकाला गया
सामूहिक दुष्कर्म की एक घटना के संबंध में गिरफ्तार किए जाने के बाद भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) के दो पदाधिकारियों को शुक्रवार को यूनियन से हटा दिया गया। नरेश टिकैत की अगुवाई वाली भाकियू से निष्कासित पदाधिकारियों में सहारनपुर इकाई के सुबोध काकरण और विकी तोमर शामिल हैं।
संगठन में ऐसे लोगों की कोई जगह नही 
भारतीय किसान यूनियन के मुजफ्फरनगर जिला अध्यक्ष योगेश शर्मा ने शुक्रवार को कहा कि सामूहिक दुष्कर्म की एक घटना के संबंध में उत्तराखंड पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए जाने के बाद इन लोगों को भाकियू से बाहर कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि संगठन में ऐसे लोगों के लिए कोई जगह नहीं है।
चलती कार में 35 वर्षीय महिला के साथ कथित भाकियू कार्यकर्ताओं  ने किया था दुष्कर्म
उत्तराखंड पुलिस ने 30 जून को भाकियू के दो पदाधिकारियों समेत पांच लोगों को गिरफ्तार किया था। इन लोगों ने 24 जून को रुड़की में चलती कार में 35 वर्षीय महिला और उसकी पांच साल की बेटी से कथित तौर पर सामूहिक दुष्कर्म किया था।
आपको बता दे कि भाकियू अराजनैतिक संगठन हैं, लेकिन संगठन से जुड़े कुछ ताकत का बेजा इस्तेमाल करते हैं , पुलिस व ग्राउंड में रहने अधिकारियों में इन जैसे लोगों की अच्छी पैठ रहती हैं। जिसके कारण इन जैसे लोगों को दरिंदगी का ऐसा घिनौना काम करते हुए कानून के भय का कोई असर नही रहता।  
 
facebook twitter instagram