+

UP सरकार का दावा, प्रवासी कामगारों को वापस लाने का काम दो-तीन दिन में हो जाएगा पूरा

UP सरकार का दावा, प्रवासी कामगारों को वापस लाने का काम दो-तीन दिन में हो जाएगा पूरा
उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने दावा किया है कि लॉकडाउन के कारण देश के विभिन्न हिस्सों मे फंसे उत्तर प्रदेश के कामगारों को वापस लाने का काम अगले दो से तीन दिन में पूरा हो जाएगा। राज्य सरकार के वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी देते हुए गुरुवार को बताया कि अन्य राज्यों ने सूचित किया है कि वापसी के इच्छुक प्रवासी उनके यहां नहीं हैं या बहुत कम संख्या में हैं। 
अपर मुख्य सचिव, गृह और सूचना अवनीश अवस्थी ने बताया, ‘‘ट्रेनों और बसों से प्रवासी कामगारों को वापस लाने का पूरा अभियान अगले दो-तीन दिन में समाप्त हो जाएगा। अभी तक करीब 26 से 27 लाख प्रवासी लौटे हैं।’’ उन्होंने बताया कि गुजरात, दिल्ली, पंजाब, तेलंगाना, कर्नाटक, राजस्थान, हरियाणा आदि राज्यों से ज्यादातर प्रवासी श्रमिक वापस आ चुके हैं और इन राज्यों से वापस आने वाले श्रमिकों की संख्या अब नगण्य है। 

UP : बरेली के कृष्ण लीला शॉपिंग कॉम्लेक्स में लगी भीषण आग, लाखों का माल जलकर हुआ खाक

उन्होंने बताया कि अभी तक प्रवासी श्रमिकों को लेकर राज्य में 1,411 ट्रेनें आयी हैं और अगले कुछ दिन में इनकी संख्या 1,551 हो जाएगी। अवस्थी ने बताया कि अब प्रदेश में महाराष्ट्र और कुछ दक्षिणी राज्यों से ट्रेनें आनी हैं। राज्य में सबसे ज्यादा 490 ट्रेनें गुजरात से आयी हैं, जबकि महाराष्ट्र से 327, पंजाब से 228, दिल्ली से 94, कर्नाटक से 53 और राजस्थान से 33 ट्रेनें आयी हैं। 
facebook twitter