+

देश के विभिन्न राज्यों में 18-44 वर्ष के आयुवर्ग के टीकाकरण के पहले दिन लोगों को लगाई गयी वैक्सीन

देश के विभिन्न राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों में 18 से 44 आयुवर्ग के लिए टीकाकरण के पहले दिन शनिवार को विभिन्न लोगों को कोविड-19 रोधी टीके लगाये गए।
देश के विभिन्न राज्यों में 18-44 वर्ष के आयुवर्ग के टीकाकरण के पहले दिन लोगों को लगाई गयी वैक्सीन
देश के विभिन्न राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों में 18 से 44 आयुवर्ग के लिए टीकाकरण के पहले दिन शनिवार को विभिन्न लोगों को कोविड-19 रोधी टीके लगाये गए। हालांकि कई जगह पर टीके की खुराक उपलब्ध नहीं होने के चलते टीकाकरण अभियान शुरू नहीं हो सका। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में 18-44 साल की उम्र के लोगों के लिये कोरोना वायरस रोधी टीकाकरण की शुरूआत सोमवार से होगी।
दिल्ली के मुख्यमंत्री ​अरविंद केजरीवाल ने इसकी घोषणा की और कहा कि सरकार को टीके की 4.5 लाख खुराक ​प्राप्त हुयी है। देश भर में शनिवार से 18 साल या उससे अधिक उम्र के लोगों के लिये टीकाकरण की शुरूआत हुयी। इस मौके पर केजरीवाल राजधानी के सरस्वती विहार में एक टीकाकरण केंद्र पर पहुंचे और इस अभियान की 'सांकेतिक शुरूआत' की।
मुख्यमंत्री ने कहा, ''दिल्ली में 18-44 वर्ष के लोगों के ​लिये टीकाकरण की शुरूआत तीन मई से होगी। हमें 4.5 लाख टीके प्राप्त हुये हैं और उन्हें सभी जिलों में भेजा जा रहा है।'' केजरीवाल ने लोगों से आग्रह किया कि वह टीकाकरण केंद्रों पर कतार नहीं लगायें क्योंकि इस तरह से टीकाकरण की अनुमति नहीं है।
महाराष्ट्र के जन स्वास्थ्य विभाग ने कहा कि महाराष्ट्र में शनिवार को 18 से 44 वर्ष आयुवर्ग के व्यक्तियों को टीका लगाने के पहले दिन इस आयुवर्ग के 11,492 लोगों को कोविड-19 का टीका लगाया गया। केंद्र सरकार द्वारा पिछले महीने व्यापक आबादी के लिए टीकाकरण अभियान चलाने का फैसला किये जाने के बाद 18 से ऊपर के लोगों के लिए शनिवार को टीकाकरण शुरू हुआ। 45 वर्ष से अधिक आयु के लोगों के लिए टीकाकरण पहले से ही चल रहा था।
महाराष्ट्र के स्वास्थ्य विभाग की आधिकारिक विज्ञप्ति में कहा गया है कि नई श्रेणी के लिए टीकाकरण अभियान राज्य के 26 जिलों में चलाया गया और यह रविवार से सभी 36 जिलों में शुरू हो जाएगा। राज्य सरकार ने कहा है कि लोगों को पहले को-विन ऐप या पोर्टल के माध्यम से पंजीकरण किए बिना टीकाकरण केंद्रों पर नहीं जाना चाहिए।
मुंबई में शनिवार को 18 से 44 साल की आयु के व्यक्तियों को टीका लगाने के पहले दिन 1,000 लोगों की टीका लगाया गया। बृह्नमुंबई नगर निगम (बीएमसी) के एक अधिकारी ने कहा कि नगर निकाय ने रविवार को 18 से 44 साल की आयु के 2,500 लोगों की टीका लगाने का लक्ष्य रखा है। अतिरिक्त नगर आयुक्त सुरेश काकानी ने कहा, ‘‘आज हमने अपने पांच केन्द्रों में से प्रत्येक केन्द्र में 18 से 44 वर्ष की आयुवर्ग के 200 लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा था, जिसे हासिल कर लिया गया है।
प्रत्येक केन्द्र में 200 लोगों की टीका लगाए जाने का अनुमान है।'' बीएमसी ने 18 से 44 साल की आयु के लोगों को टीका लगाने के लिये पांच कोविड-19 टीकाकरण केन्द्रों को चिन्हित किया था। इनमें नायर अस्पताल, बीकेसी जंबो फैसिलिटी, कूपर अस्पताल, सेवन हिल्स अस्पताल और राजावाड़ी अस्पताल शामिल हैं।
काकानी ने कहा कि बीएमसी ने रविवार को हर केन्द्र में इस आयुवर्ग के 500 लोगों की टीका लगाने का लक्ष्य रखा है। उन्होंने कहा, ''इस लिहाज से कल (रविवार को) 2,500 लोगों को टीका लगाया जाएगा।'' काकानी ने कहा कि केन्द्र से मिली आपूर्ति के आधार पर 45 साल से अधिक आयु के लोगों के लिये अलग से टीकाकरण कार्यक्रम चलता रहेगा।
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने शुक्रवार को कहा था कि 18-44 आयु वर्ग के लिए टीक की खुराक उपलब्धता के अनुसार दी जाएगी और लोगों को टीकाकरण केंद्रों पर भीड़ नहीं लगानी चाहिए। कोविड​​-19 के खिलाफ 18 से 44 आयु वर्ग के नागरिकों के लिए सरकारी अस्पतालों में टीकाकरण मुफ्त है, लेकिन नागरिकों को निजी इकाइयों में इसके लिए भुगतान करना होगा।
इस बीच, मुख्यमंत्री द्वारा टीकाकरण केंद्रों पर भीड़ नहीं लगाने की अपील के बावजूद, उपनगरीय अंधेरी में एक टीकाकरण केंद्र में पहले ही दिन लोगों की भारी भीड़ देखी गई। बीएमसी के एक अधिकारी ने कहा, ‘‘अंधेरी केंद्र में बहुत से लोग बिना पंजीकरण के आ गए थे जिससे वहां यह प्रक्रिया प्रभावित हुई।’’ वहीं श्रीनगर से प्राप्त खबर के अनुसार 18-45 आयु वर्ग के लोगों के लिए कोविड-19 टीकाकरण अभियान का तीसरा चरण शनिवार को जम्मू कश्मीर में चरणबद्ध तरीके से श्रीनगर और जम्मू शहरों के साथ शुरू हुआ।
श्रीनगर के उपायुक्त मोहम्मद ऐजाज असद ने श्रीनगर के श्री महाराज हरि सिंह (एसएमएचएस) अस्पताल में 18-45 वर्ष के आयु के लोगों के लिए टीकाकरण अभियान शुरू किया। अधिकारियों ने कहा कि दो टीकों - कोवैक्सीन और कोविशील्ड की 1.25 लाख नई खुराक शनिवार को घाटी में पहुंच गई। उन्होंने कहा कि लोगों के टीकाकरण के लिए जिला प्रशासन द्वारा कुल 10 नामित केंद्र स्थापित किए गए हैं।
उन्होंने कहा, ‘‘नामित केंद्रों की संख्या जल्द ही बढ़ाई जाएगी।’’ वहीं तिरुवनंतपुरम से मिली खबर के अनुसार केरल सरकार ने शनिवार को कहा कि कोविड-19 के खिलाफ देश की लड़ाई के तहत 18 साल से अधिक उम्र के लोगों के टीकाकरण में देरी होगी क्योंकि टीकों की खुराक की कमी है। उन्होंने केंद्र से टीके की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए तुरंत कदम उठाने का आग्रह किया। मुख्यमंत्री पिनरायी विजयन ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के टीकाकरण में कुछ दिनों की देरी होगी।
निर्माताओं से टीकों की खरीद के प्रयास जारी हैं इसलिए 18 वर्ष से अधिक आयु के लोगों का टीकाकरण कल से नहीं हो सकेगा। भुवनेश्वर से प्राप्त खबर के अनुसार ओडिशा सरकार ने शनिवार को 18-44 वर्ष आयु वर्ग के लोगों के लिए कोविड-19 टीकाकरण अभियान का ‘‘प्रतीकात्मक पूर्वाभ्यास’’ किया।
यह जानकारी एक अधिकारी ने दी। प्रशासन ने शुक्रवार रात कहा था कि टीकाकरण अभियान के तीसरे चरण की शुरुआत एक मई को भुवनेश्वर में प्रतीकात्मक होगी क्योंकि यह राज्य भर में शहरी क्षेत्रों में सप्ताहांत लॉकडाउन का पहला दिन है। भुवनेश्वर नगर निगम (बीएमसी) के आयुक्त पी सी चौधरी ने कहा, तकनीकी मुद्दों को ठीक करने और यह सुनिश्चित करने के लिए कि सॉफ्टवेयर सही तरीके से काम कर रहा है हमने आज भुवनेश्वर में प्रतीकात्मक पूर्वाभ्यास किया।’’
रांची से प्राप्त खबर के अनुसार केन्द्र सरकार की घोषणा के अनुकूल 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों का झारखंड में शनिवार से कोविड-19 के संक्रमण के खिलाफ टीकाकरण प्रारंभ नहीं हो सका क्योंकि राज्य सरकार को इस उद्देश्य से आवश्यक टीके उपलब्ध नहीं हो पाये। झारखंड के स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव अरुण सिंह ने बताया कि झारखंड सरकार ने कोविड-19 के नियंत्रण के लिए देश में बने दोनों टीकों कोविशील्ड एवं कोवैक्सीन की उत्पादक कंपनियों को 25-25 लाख टीकों की आपूर्ति का अनुरोध किया था लेकिन दोनों कंपनियों ने अब तक टीकों की आपूर्ति नहीं की है। उन्होंने बताया कि 18 वर्ष से 45 वर्ष आयु वर्ग के लोगों के लिए राज्य को अभी तक कोई भी टीका नहीं मिल सका है लिहाजा फिलहाल एक मई से इस आयु वर्ग के लोगों का केंद्र सरकार द्वारा घोषित टीकाकरण कार्यक्रम अनिश्चित काल के लिए स्थगित कर दिया गया है।
उन्होंने बताया कि टीका उपलब्ध होते ही इस आयु वर्ग के लिए टीकाकरण कार्यक्रम की घोषणा की जायेगी। पणजी से प्राप्त खबर के अनुसार गोवा सरकार कोविड-19 टीकों की अनुपलब्धता के चलते शनिवार को 18 से 45 साल के आयु वर्ग के लोगों के लिये टीकाकरण अभियान शुरू नहीं कर पाईे। गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने कहा कि राज्य ने पुणे स्थित सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया को खुराकों का आर्डर दिया है।
उन्होंने पत्रकारों से कहा, ''18 से 45 साल की आयु के लोगों का टीकाकरण अभी शुरू नहीं हुआ है, लिहाजा लोग स्वास्थ्य केन्द्र न जाएं। हमारे दवा खरीद लेने के बाद यह शुरू होगा।'' मुख्यमंत्री ने कहा कि 45 साल से अधिक लोगों के लिये निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार टीकाकरण चलता रहेगा। गुवाहाटी से प्राप्त खबर के अनुसार केंद्र से कोविड-19 टीके की खुराक नहीं मिलने की वजह से असम में शनिवार को टीकाकरण के तीसरे चरण के तहत 18 से 44 वर्ष आयुवर्ग के लोगों को टीका लगाने का अभियान शुरू नहीं हो सका।
राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (एनएचएम) के शीर्ष अधिकारी ने यह जानकारी दी। एनएचएम के निदेशक एस लक्षमण ने बताया, ‘‘ टीकाकरण का तीसरा चरण युवाओं को टीका लगाने के राष्ट्रीय अभियान का हिस्सा है। हम भारत सरकार से टीके की निर्धारित संख्या में खुराक मिलते ही इसे शुरू कर देंगे।’’
अहमदाबाद से मिली जानकारी के अनुसार गुजरात के दस जिलों में शनिवार को 18 से 45 वर्ष की आयु के लोगों का टीकाकरण शुरू हो गया। इस दौरान टीकाकरण केन्द्रों के बाहर इस आयु वर्ग के लोग कतार में खड़े होकर अपनी बारी आने की प्रतीक्षा करते दिखे। अधिकारियों ने कहा कि महामारी से सबसे अधिक प्रभावित जिलों अहमदाबाद, सूरत, वडोदरा, राजकोट, जामनगर, कच्छ, मेहसाणा, भरूच और गांधीनगर में टीकाकरण अभियान शुरू हो चुका है।
उन्होंने कहा कि गुजरात सरकार ने टीका निर्माताओं को 2.5 करोड़ खुराकों का ऑर्डर दिया था, जिसमें से राज्य को केवल तीन लाख खुराकें मिली हैं, इसलिये सीमित जिलों में अभियान शुरू किया गया है।
लखनऊ से प्राप्त सूचना के अनुसार उत्तर प्रदेश के उन सात जिलों में शनिवार से 18-44 आयु वर्ग के लोगों का कोविड रोधी टीकाकरण शुरू हो गया जहां संक्रमण के नौ हजार से अधिक उपचाराधीन मामले हैं। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज लखनऊ में अवंती बाई अस्पताल पहुंचकर संबंधित आयु समूह के लोगों के लिए कोरोना टीकाकरण अभियान शुरू किया।
facebook twitter instagram