+

वीरप्पा मोइली ने कोरोना को लेकर केंद्र पर लगाया आरोप, कहा- रणनीति का आभाव, शासन व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त

वीरप्पा मोइली ने कोरोना वायरस से दूसरी लहर से निपटने की रणनीति को लेकर शनिवार को केंद्र सरकार पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि राष्ट्रीय रणनीति का अभाव है और शासन व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त हो चुकी है।
वीरप्पा मोइली ने कोरोना को लेकर केंद्र पर लगाया आरोप, कहा- रणनीति का आभाव, शासन व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता वीरप्पा मोइली ने कोरोना वायरस से दूसरी लहर से निपटने की रणनीति को लेकर शनिवार को केंद्र सरकार पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि राष्ट्रीय रणनीति का अभाव है और शासन व्यवस्था ‘‘पूरी तरह ध्वस्त’’ हो चुकी है। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि मौजूदा हालात को युद्ध जैसे हालात के तौर पर लेने की जरूरत है।
पूर्व केंद्रीय मंत्री ने एक बयान में आरोप लगाया कि राज्यों को ऑक्सीजन की आपूर्ति करने के लिए कोई स्पष्ट नीति नहीं है। मोइली ने दावा किया, ‘‘यह काफी हैरानी करने वाली बात है कि भारत सरकार और कई राज्यों की सरकारें बहुत असंवेदनशील हैं तथा पहली एवं दूसरी लहर के लिए तैयार नहीं थीं। तीसरी लहर आने वाली है, ऐसा विशेषज्ञ कह रहे हैं। उनका कहना है कि तीसरी लहर बच्चों को निशाना बनाएगी।’’ केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने आरोप लगाया कि राष्ट्रीय रणनीति का अभाव है और शासन व्यवस्था ध्वस्त हो चुकी है।


facebook twitter instagram