+

जालियावाला बाग कांड का बदला लेने और महारानी एलिजाबेथ की हत्या करने की धमकी के वीडियो से हड़कंप

स्काटलैंड यार्ड ने उस वीडियो की जांच शुरू कर है जिसमें चेहरे को पूरी तरह से नकाब से ढके और अपने को एक भारतीय सिख बताने वाले व्यक्ति 1919 के जालियावाला बागकांड का बदला लेने के लिए महारानी एलिजाबेथ द्वितीय की ‘‘हत्या’’ करने की धमकी दी है।
जालियावाला बाग कांड का बदला लेने और महारानी एलिजाबेथ की हत्या करने की धमकी के वीडियो से हड़कंप
स्काटलैंड यार्ड ने उस वीडियो की जांच शुरू कर है जिसमें चेहरे को पूरी तरह से नकाब से ढके और अपने को एक भारतीय सिख बताने वाले व्यक्ति 1919 के जालियावाला बागकांड का बदला लेने के लिए महारानी एलिजाबेथ द्वितीय की ‘‘हत्या’’ करने की धमकी दी है। कुछ दिन पहले ही एलिजाबेथ के विंडसर महल में एक घुसपैठिये को गिरफ्तार किया गया था। 
स्नैपचैट पर शेयर किया धमकी का वीडियो 
द सन अखबार के अनुसार यह वीडियो स्नैपचैट पर साझा किया गया है। वीडियो एक नकाबपोश व्यक्ति ने अपना नाम है भारतीय सिख जसवंत सिंह चैल बताया है। इस बीच, 19 वर्षीय एक घुसपैठिये को उसकी मानसिक दशा को लेकर पकड़ गयाहै। मेट्रोपोलिटन पुलिस ने उसका नाम अब तक नहीं बताया है। 
स्काटलैंड यार्ड के अधिकारी इस वीडियो की जांच कर रहे हैं जिसका कथित रूप से संबंध क्रिसमस के दिन विंडसर महल से गिरफ्तार किये गये घुसपैठिये से बताया जाता है। इस घुसपैठिये के पास तीर-धनुष था। 
महारानी एलिजाबेथ की हत्या के प्रयास का दावा 
मेट्रोपोलिटन पुलिस ने बताया कि मानसिक स्वास्थ्य जांच के बाद गिरफ्तार संदिग्ध के विरूद्ध ब्रिटेन के मानसिक स्वास्थ्य कानून की धाराएं लगायी गयी हैं और वह‘ चिकित्सकों की देखभाल’ में है। वीडियो में नकाबपोश व्यक्ति कह रहा है, ‘‘मैं दुखी हूं, मैंने जो किया है और मैं जो करूंगा, उससे मैं दुखी हूं। मैं राजपरिवार की महारानी एलिजाबेथ की हत्या करने का प्रयास करूंगा।’’ 
वह कह रहा है, ‘‘ यह उन लोगों के लिए बदला है जो 1919 के जालियावाला बाग नरसंहार में मारे गये थे। यह उन लोगों के लिए भी बदला है जो अपनी नस्ल के कारण मारे गये, अपमानित किये गये, भेदभाव का शिकार हुए। मैं एक भारतीय सिख हूं। मेरा नाम जसवंत सिंह चैल है, मेरा नाम डार्थ जोंस है।’’ 
 सुरक्षाा अधिकारियों ने घुसपैठियों को किया गिरफ्तार 
अप्रैल, 1919 में बैसाखी के दौरान अमृतसर के जालियावाला बाग में यह नरसंहार हुआ था। कर्नल डायर के आदेश पर ब्रिटिश सैनिकों ने स्वतंत्रता समर्थक प्रदर्शन पर गोलियां चलायी थीं, बड़ी संख्या में लोग मारे गये थे। सन की वेबसाइट पर डाले गये इस वीडियो क्लिप में ‘स्टार वार्स’ की तरह मास्क लगाये एक व्यक्ति के हाथ में काला हथियार है और वह रूक-रूककर बोल रहा है। 
यह वीडियो कथित रूप से उस व्यक्ति के स्नैपचैट एकाउंट के फालाअर्स को कथित रूप से भेजा गया है । उससे महज कुछ देर पहले सुरक्षाा अधिकारियों ने घुसपैठियो को 95 वर्षीय महारानी के निजी अपार्टमेंट के पास गिरफ्तार किया। 
धमकी देने वाले शख्स ने की ये अपील 
स्नैपचैट पर इस वीडियो के साथ एक संदेश में किशोर ने लिखा है, ‘‘ मुझे इन बातों का दुख है जो मैंने किया और झूठ बोला। यदि आपको यह मिला है तो जान जाइए कि मेरी मौत नजदीक है। कृपया इससे साझा कीजिए, और यदि संभव हो तो इसे खबर में दीजिए, यदि वे इसमें इच्छा रखते हो तो।’’ 
पुलिस साउथम्पटन में एक आवास की तलाशी भी कर रही है जहां संदिग्ध कथित रूप से अपने परिवार के साथ रहता है। मेट्रोपोलिटन पुलिस ने एक बयान में कहा, ‘‘ 19 साल के एक व्यक्ति को सुरक्षित क्षेत्र का अतिक्रमण करने एवं घातक हथियार रखने के संदेह पर गिरफ्तार किया गया है ।’’ 
facebook twitter instagram