+

देश और बिहार को बचाने का संकल्प लेते हैं : तेजस्वी प्रसाद यादव

देश और बिहार को बचाने का संकल्प लेते हैं : तेजस्वी प्रसाद यादव
जेल और फांसी से हम डरने वाले नहीं है, देश और बिहार को बचाने का संकल्प लेते हैं। नेता प्रतिपक्ष श्री तेजस्वी प्रसाद यादव आज बापू सभागार मे राजद की राष्ट्रीय परिषद एवम खुला अधिवेशन को संबोधित कर रहे थे  उन्होंने कहा कि लालू एक व्यक्ति नहीं विचार धारा हैं। वे गरीब, पिछड़े, दलित, अल्पसंख्यक समाज की लड़ाई लड़ने और उन्हें हक अधिकार दिलाने के लिये संघर्ष करने वाले जुझारू नेता हैं। 

लालू जी से भाजपा घबराई हुई है और उनके खिलाफ साजिश रच कर उन्हें समाज से अलग रखने का सडयंत्र कर रही है। आदरणीय श्री सरद यादव जी ने आज मुझे अपनी जिमेदारी का बोध कराया है। हम तमाम लोगों को विश्वाश दिलाते हैं कि हम आम जनता के विश्वाश, आशा और आकांछा को पूरा करेंगे और भेद-भाव ,नफरत फैलाने वाली एवम समाज को तोड़ने वालीभाजपा और इन डी ए की केंद्र सरकार एवम बिहार सरकार के खिलाफ लड़ाई को आगे बढ़ाएंगे और सामाजिक न्याय के लिये लड़ाई लड़ते रहेंगे। 

संविधान की रक्छा के लिये जो कुछ करना होगा करेंगे। आपके भरोसे को नही टूटने देंगे। देश की एकता और शांति की भंग करने वालों के लिये मेरे पास कोई सम्मान नही है। माननीय मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार की चर्चा करते हुए कहा कि उनका इकबाल खत्म हो चुका है। राज्य मे अपराधियों का तांडव हो रहा है। अपराधियों का मनोबल बढ़ रहा है। महिलाओं का बुरा हाल है। आएदिन बलात्कार की घटनाएं हो रही है। 

बिहार बेरोजगारों का केन्द्र बन गया है। विधान सभा मे चपरासी, माली, और ऐसे175 रिक्त पदों के विरुद्ध 5 लाख से अधिक आवेदन परते है। आवेदन करने वाले उच्च सिक्छा पाप्त लोग होते हैं। मुख्यमंत्री जी थक चुके हैं अब वे सिर्फ कुर्सी के लिये तिक्रम कर रहे हैं। बिहार की जनता अब उन्हें दोबारा मौका देने वाली नही है। क्राइम, करप्शन एवम कम्युनलिज्म से समझौताकर रखा है। 

नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि हमारे पिता श्री लालू जी ने राजद के सब से अधिक विधायक रहने के बावजूद श्री नीतीश कुमार को मुख्यमंत्री का पद दिया, विधान सभा के अध्यक्ष का पद जदयू को दिया मगर उन्होंने लालू जी को क्या दिया। लालूजी जनाधार वाले नेता हैं। लालूजी जो वादा करते हैं उसे निभाते है वे किसी को धोखा नही देते उनका ह्रदय बहुत बड़ा है।सबके लिये उनके दिल मे आदर और सम्मान है। देश और राज्य मे महगाई चरम सीमा पर है संवैधानिक संस्थाओं के साथ खेलवाड़ हो रहे हैं ।

भाजपा जॉइन करते ही लोग हरीश चंद हो जाते है दूसरे सबको बदनाम करने की साजिश होती है। उदहारण स्वरूप उन्होंने श्री अजित पवार का जिक्र किया । हमसब सिद्धान्त और विचार से समझौता नही कर सकते हैं। हमसब मिल कर लालू जी की लड़ाई को लड़ेंगे। आप सब लालूजी के हांथ को मजबूत करें।सत्ता का ईमान जब तक डोलता रहेगा, लालू ली बोलते रहेंगे। हम सभी मुद्दों पर काम करेंगे।2020 के विधान सभा चुनाव मे राजद को बहुमत दिलाएं। 

उन्होंने कहा कि संक्रांति के बाद राजद आंदोलन खड़ा कर जनता को जगाने का काम करेगी। इन डी ए को भगाओ, देश को बचाओ का नारा दिया। समारोह की अध्यक्षता राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री रघुवंश प्रसाद सिंह ने किया और कहा कि2020 देश के लिये बेहतर होगा महाराष्ट्र से भाजपा की बिदाई हो चुकी है, झारखंड से बिदाई होने वाली है। नागरिकता संसाधन बिल की चर्चा करते हुए कहा कि ये बिल संविधान की धज्जी उड़ाने वाला है। 

किसानों को उनके उत्पादन का मूल्य नही मिल रहा है, बिचोलिये मालो माल हो रहे हैं। पूर्व केंद्रीय मंत्री श्री सरद यादव ने कहा की cab बिल को संसद मे ला कर भाजपा और इन डी ए ने संविधान की आत्मा मे कील ठोंकी है। धर्म का राजनीत से कोई वास्ता नहीं है।संविधान की रक्छा करना हम सब की जिमेदारी है। जिन्होंने संविधान के साथ खेलवाड़ की मंशा बना रखी है उन्हें देश की जनता जरूर सज़ा देगी। 

जिन्होंने ने नागरिकता संसोधन बिल के पक्ष मे वोट किया है उन्हें देश की जनता सजा देगी। प्रदेश राजद अध्यक्ष श्री जगदानंद सिंह ने कहा कि राजद का ही भविष्य है। भारत को खंडित करने वालों की मंशा को कभी सफल नही होने देंगे। मंच का संचालन श्री रामचन्द्र पूर्वे ने किया। इस अवसर पा श्री उदय नारायण चौधरी, श्री रमई राम, श्री जय प्रकाश नारायण यादव, श्रीमती कांति सिंग, श्री तेजपाल यादव,श्री अब्दुल बारी सिद्दीकी, श्री तनवीर हसन, श्री शिव चंद्र राम सहित राजद के अनेकों वरिष्ट नेताओं ने खुले अधिवेशन को संबोधित किया।
facebook twitter