World Cup 2019: भारत-न्यूजीलैंड सेमीफाइनल मैच पर मंडरा रहा है बारिश का खतरा

‌मंगलवार 9 जुलाई को भारत और न्यूजीलैंड के बीच में आईसीसी विश्व कप 2019 का पहला सेमीफाइनल मैच मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड में खेलेगी। पूरी दुनिया के क्रिकेट फैन्स की इस बड़े मैच में नजर बनी हुई हैं। इस मैच से ही पता चलेगा कि फाइनल में जाने वाली पहली टीम कौन सी होगी। 


न्यूूजीलैंड और भारत के बीच लीग मैच 13 जून को नॉटिंघम में खेला जाना था लेकिन वह बारिश की वजह से रद्द हो गया था। विश्व कप शुरु होने से पहले भारत ने अपना पहला वॉर्म अप मैच न्यूजीलैंड के खिलाफ खेला था जिसमें भारत को न्यूजीलैंड ने हरा दिया था। 


इस मैच से पहले क्रिकेट फैन्स के लिए एक बुरी खबर यह आ रही है कि सेमीफाइनल मैच में भी इन दोनों टीमों के ऊपर बारिश का खतरा मंडरा रहा है। अगर बारिश आ गई ताे क्रिकेट फैन्स बेहद निराश हो जाएंगे। वहीं ब्रिटेन के मौसम विभाग के मुताबिक, मंगलवार के दिन आसमान में बादल छाए रहेंगे और हल्की बारिश रुक-रुककर हो सकती है। 

ज्यादा बारिश की संभावना रिजर्व डे पर 


मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड में भारत और न्यूजीलैंड के बीच में होने वाले पहले सेमीफाइनल मैच में बारिश आने की संभावना जताई जा रही है। अगर मंगलवार को बारिश आ सकती है तो बुधवार को इस मैच के लिए रिजर्व डे रखा गया है। लेकिन मौसम विभाग ने बुधवार के दिन भी बारिश आने की संभावना जताई है और भारी बारिश आने की। इसी दिन रिजर्व डे भी रखा गया है। 

फाइनल में पहुंच जाएगी भारतीय टीम अगर दो दिन हुई बारिश


पहला सेमीफाइनल मैच मंगलवार को अगर नहीं होता तो इसका रिजर्व डे का आयोजन किया जाएगा। बुधवार को रखे रिजर्व डे पर भी बारिश हो जाती है तो फाइनल में भारतीय टीम पहुंच जाएगी। क्योंकि लीग चरण मंे भारतीय टीम के सबसे ज्यादा 15 अंक हैं तो वहीं न्यूजीलैंड के 11 अंक हैं। 

50 फीसदी है बारिश होने की संभावना


ब्रिटेन के मौसम विभाग के अनुसार, मंगलवार यानी सेमीफाइनल मैच के दिन सुबह 10 बजे 50 प्रतिशत संभावना बारिश होने की है। सुबह 10ः30 बजे मैच शुरु होना है अगर बारिश की संभावना होगी तो मैच देर से शुरु होगा। वहीं मौसम विभाग ने बताया है कि दोपहर के 1 बजे के बाद आसमान साफ रहने का बताया गया है। 

सुर्खियों में एक बार फिर आएगा डकवर्थ लुईस


मैनचेस्टर का मौसम जिस तरह से बताया जा रहा है उस हिसाब से तो मैच का नतीजा डकवर्थ लुईस नियम के तहत ही निकलेगा। अगर कोई मैच बारिश की वजह से बाधित होता है तो किसी एक या दोनों टीमों को अपने कोटे के पूरे ओवर खेलने को नहीं मिलते हैं। उसके बाद मैच दोबारा शुरु होने के बाद बचे हुए टाइम में बारिश आने से पहले टीमों के प्रदर्शन, ओवरों में हुई कटौती के साथ बाकी बातों के आधार पर टारगेट की गणना होती है। 
Download our app